UAE में हैं तो अलर्ट: भूल से भी न पोस्ट करें ये, नहीं तो कुत्ते की तरफ़ पकड़ के ले जाएगी पुलिस

1 min


0

संयुक्त अरब अमीरात (UAE) में एक वीडियो सोशल मीडिया पोस्ट करना वहां के कामगार को काफी मंहगा पड़ गया. वीडियो वायरल के होने के बाद पुलिस ने उस पर तुंरत कार्रवाई की और गिरफ्तार कर जेल भेज दिया. कामगार द्वारा पोस्ट किये गए वीडियो में यह देखा जा रहा है कि एक अज्ञात वयस्क एक बच्चे को डरा रहा है और उसे पीट भी रहा है. बता दें कि इस तरह के असमाजिक वीडियो पोस्ट करना और बनाना UAE में अपराध हैं और इसके लिए कड़ी सजा का प्रावधान है.
 

 
इस मामले में आरएसी पुलिस के जनरल कमांडर मेजर जनरल अली अब्दुल्ला बिन अलवान अल नुआइमी ने शनिवार को यह कहा, “आपराधिक जांच विभाग ने उस व्यक्ति को ट्रैक किया है जिसने बच्चे के दुरुपयोग करने के वीडियो क्लिप को तीन दिन बाद वायरल ऑनलाइन पोस्ट किया था. यह स्पष्ट नहीं था कि वीडियो कब और कहाँ बनाई गई थी. हालांकि इसकी अभी भी जांच चल रही है.”
 

 
उन्होंने कहा, “इस तरह से बच्चे को डराने के लिए आपत्तिजनक कदम उठाना स्वीकार्य नहीं है, भले ही यह बच्चे को अनुशासन देने के लिए है.” उन्होंने आग्रह करते हुए कहा कि माता-पिता और समाज के सभी सदस्यों को अपने बच्चों के साथ बेहतर संवाद करने, उन्हें सुनने की जरूरत है और कभी उन्हें डराने या धमकी देने की आवश्यकता नहीं है. उन्होंने कहा कि शारीरिक दंड और अनुचित मनोवैज्ञानिक खतरों का हमेशा बच्चे के आत्मविश्वास, व्यवहार और उनके भविष्य पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है.
 

 
मेजर जनरल नुआइमी ने आगे कहा कि इंटीरियर मंत्रालय ने किसी भी दुर्व्यवहार या शोषण के खिलाफ बच्चों की रक्षा के लिए एक विशेष केंद्र स्थापित किया है. जनता से इंटीरियर मिनिस्ट्री के टोल फ्री नंबर 116111 पर बच्चों के खिलाफ ऐसी हिंसा या अवैध प्रथाओं की रिपोर्ट करने का आग्रह किया जाता है, जो इस तरह के संवेदनशील मामलों से निजी रूप से और सुरक्षित रूप से संबंधित है.


Like it? Share with your friends!

0
user

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *