UAE: दुबई पुलिस ने पांच भारतियों को किया गिरफ़्तार, अगर आप भी चला रहे हैं facebook/whatsapp तो पढ़ ले

1 min


0

सोशल मीडिया एक ऐसा प्लेटफॉर्म है, जहां हम कुछ भी आसानी से पोस्ट कर सकते हैं या फिर किसी की भी जानकारी हम लोग देख सकते हैं, सोशल मीडिया पर कुछ भी वायरल हो जाना आजकल सामान्य है, लेकिन सोशल मीडिया पर कुछ भी वायरल हो जाने के जितने फायदे हैं उससे कई ज्यादा नुकसान भी हैं. दुबई में ऐसा ही एक मामला सामने आया है, जिसमे पांच भारतीयों ने सोशल मीडिया पर कुछ झूठी अफवाहें फैलाकर खुद को और दूसरों को भी दिक्क़त में डाल दिया.

क्या था मामला ?

दुबई पुलिस ने पांच भारतियों को दुबई सार्वजनिक अभियोजन के पास जांच के लिए भेजा है, जिन पर इंटरनेट / सोशल मीडिया का दुरुपयोग करने का आरोप लगाया गया है.
दुबई पुलिस द्वारा की गई जांच ने पुष्टि की है कि “सोशल मीडिया पर एक व्यक्ति ने फेक इनफार्मेशन पोस्ट कर दी और बताया की दुबई में कल्याण ज्वेलर ब्रांड वाले नकली गहने बेचते हैं और बताया की यह ब्रांड सोने के अशुद्ध और नकली गहने बेचता है.”

व्यक्ति ने यह स्वीकार किया की उसने ब्रांड के खिलाफ सोशल मीडिया पर फेक इनफार्मेशन वायरल की थी और खासकर व्ह्ट्सएप्प पर, व्यक्ति ने स्वीकार किया की उसने लोग इन कर कंपनी को बदनाम किया है हालाँकि अन्य लोगों के खिलाफ जांच प्रक्रिया चल रही है.
व्यक्ति द्वारा की गयी इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया गया और व्ह्ट्सएप्प के अनेकों ग्रुप में भेजे गए, पोस्ट के बाद कल्याण ज्वेलर शो रूम जो की युएइ में है उसे बंद कर दिया गया और उसके मालिकों को गिरफ्तार कर दिया गे.

नकली वीडियो फैलाने और सोशल मीडिया पर झूठी खबरों के प्रसार के खिलाफ दुबई सार्वजनिक अभियोजन से पहले कल्याण ज्वेलर्स एलएलसी द्वारा दायर की गई शिकायत के अनुसार कानूनी कार्रवाई की गई , दुबई पुलिस साइबर अपराध विभाग के साथ मिलकर काम कर रही है और अन्य संभावित अपराधियों की पहचान करने के लिए सक्रिय रूप से जांच कर रही है जिन्होंने समान झूठे वीडियो / पोस्ट अपलोड किए थे.

क्या कहना है कल्याण ज्वेलर्स का ?

कल्याण ज्वेलर्स ने तुरंत अपने सोशल मीडिया अकाउंट से इन झूठे दावों को खारिज कर दिया.
टीएस कल्याण ज्वेलर्स के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक कल्याणमरण ने कहा की “कई लोगों के योगदान और कड़ी मेहनत से वर्षों से हमारे ब्रांड की प्रतिष्ठा बनी हुई है. कुछ गैर-जिम्मेदार व्यक्तियों द्वारा फैलाई गयी नकली अफवाहों द्वारा वह हमारी ब्रांड की प्रतिष्ठा को नुकसान पहुंचाने का काम करते हैं, इस तरह के कृत्यों का ब्रांड और ब्रांड द्वारा जुड़े गए लोगों पर गहरा असर पड़ता है.
उन्होंने कहा की “मैं यूएई की कानूनी व्यवस्था और दुबई पुलिस को साइबर अपराधों को रोकने और ऐसी स्थितियों में सच्चाई स्थापित करने में कठोर कदम उठाने के लिए धन्यवाद करता हूँ.”


Like it? Share with your friends!

0
user

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *