0

26 भारतीय मछुआरों को सद्भावना पहल के हिस्से के तौर पर पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री इमरान खान के शपथग्रहण समारोह से पहले रिहाई दी गई। भारत के जितने कैदी पाकिस्तान में बंद हैं, उसका छोड़े गए 26 मछुआरे करीब 6 फीसदी हैं। लेकिन पाकिस्तान ही वह देश नहीं है जहां सबसे ज्यादा भारतीय नागरिक जेल में बंद हैं बल्कि यूएई में सबसे ज्यादा भारतीय सलाखों के पीछे हैं। आइये आज जानते हैं कि कितनी भारतीय कहां की जेलों में बंद हैं और भारत में कितने विदेशी नागरिक जेल में हैं

77 देशों में भारतीय नागरिक जेलों में बंद हैं। उनमें निम्नलिखित 10 देश हैं जहां सबसे ज्यादा कैदी हैं।

यूएई-1,690

सऊदी अरब-1,575

यूएसए-647

नेपाल-548

कुवैत-484

पाकिस्तान-471

यूके-378

मलयेशिया-298

चीन-226

इटली-225

2017 तक विदेश की जेलों में 6,048 भारतीय बंद थे। अब यह संख्या 7,737 हो गई हैं। भारत के 83 रक्षाकर्मी पाकिस्तान की हिरासत में हैं लेकिन पाकिस्तान उनको अपने यहां हिरासत में होने की बात स्वीकार नहीं करता है। गुमशुदा रक्षाकर्मियों को रिहा करने और देश वापसी के लिए राजनयिक स्तर पर पाकिस्तान से बातचीत की गई है।

कैदियों की वापसी को लेकर भारत ने 30 देशों के साथ द्विपक्षीय संधियों पर हस्ताक्षर किया है। इंटर अमेरिकन कन्वेंशन को भी स्वीकार किया गया है और इसके तहत कैदियों की अदला-बदली के लिए आवेदन प्राप्त कर सकते हैं और भेज सकते हैं। रिपैटरिएशन ऑफ प्रिजनर्स ऐक्ट, 2003 को लागू होने के बाद देश वापस के लिए 170 आवेदन प्राप्त हुए हैं जिनमें से 63 भारतीय कैदी विदेश से देश लौटे हैं। मार्च 2015 से मार्च 2018 तक विदेश की जेल से भारतीय कैदियों को छुड़ाने पर 2.72 करोड़ रुपये खर्च हुए। भारतीय जेलों में 6,148 विदेशी नागरिक बंद हैं जो कुल कैदियों की संख्या का 1.5 फीसदी है।



Like it? Share with your friends!

0
user

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: