दिल्ली में चालान को काटने को बंद करने का आदेश जारी, सारे पुलिसकर्मी को पर्चा DCP HQ में जमा करेंगे

1 min


-7

दिल्ली ट्रैफिक पुलिस (Delhi Traffic Police) अब कोरोना वायरस से बचाव के लिए बनाए गये नियमों का उल्लंघन करने वालों के चालान नहीं काटेगी। दिल्ली ट्रैफिक पुलिस को अब इस काम से मुक्ति मिल गई है। ट्रैफिक पुलिस के डीसीपी हेडक्वार्टर एस के गौतम (DCP Headquarters of Traffic Police SK Gautam) ने इस संबंध में एक आदेश जारी कर सभी ट्रैफिक पुलिस कर्मियों से कोरोना के चालान काटने के लिए दी गई चालान बुक को तत्काल अपने-अपने सर्किल ऑफिस के स्टेशनरी स्टोर में जमा कराने के निर्देश दिए हैं।

 

इस बाबत एसके गौतम ने बताया कि उन्होंने यह आदेश इसलिए जारी किया है, ताकि ट्रैफिक पुलिस अपनी दूसरी ड्यूटी पर ध्यान दे सके। उन्होंने कहा कि जिला पुलिस के साथ ही अब जिला प्रशासन, नगर निगम, स्वास्थ्य और अन्य सरकारी एजेंसियां भी लगातार कोरोना से बचाव के नियमों का उल्लंघन करने वालों के चालान काट रहे हैं। इसलिए ट्रैफिक पुलिस को अब कोरोना के चालान काटने की जिम्मेदारी से मुक्त किया गया है, जिससे अब ट्रैफिक पुलिस सिर्फ ट्रैफिक से संबंधित मामलों को देख सके और ट्रैफिक व्यवस्था को सुचारू रूप से संचालित करने पर अपना ध्यान केंद्रित कर सके।

 

उल्लेखनीय है कि अनलॉक-1 की शुरुआत के साथ ही ट्रैफिक पुलिस ने भी पूरी तरह सक्रियता दिखाते हुए मास्क न पहनने, पान और गुटखा खाकर वाहन चलाते समय थूकने और अन्य नियमों का उल्लंघन करने पर चालान काटना शुरू कर दिया था। अब उन्हें इस काम से मुक्त कर दिया गया है। दरअसल दिल्ली में ट्रैफिक सामान्य होने लगा है, इससे भी कर्मियों की आवश्यकता बढ़ गई है।

 

यहां  पर बता दें कि मार्च महीने के अंत से ही कोरोना वायरस संक्रमण के फैलाव के साथ ही दिल्ली पुलिस ने भी मोर्चा संभाल लिया था। पुलिस ने कानून व्यवस्था संभालने के साथ ही खाना वितराण समेत अन्य जरूरी काम भी किए, जिसकी समय-समय पर सराहना भी होती रही है।


Like it? Share with your friends!

-7
Digital Desk

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *