भारत की खाने वाले अलगाववादी यासीन की पत्नी का पाकिस्तान प्रेम, वहां ध्वजारोहण में भाग लिया और….


0

भारत में रहने और खाने वाले अलगाववादी नेता मुहम्मद यासीन मलिक की पत्नी मशाल मलिक पाकिस्तान में अपनी वफादारी दिखा रही है. पाकिस्तान में आज स्वतंत्रता दिवस पर मशाल मलिक ध्वजारोहण में भी हिस्सा लिया। इतना ही नहीं उन्होंने इस्लामाबाद में लोगों को संबोधित किया। पाकिस्तान मीडिया के हवाले से यह खबर सामने आई है। गौरतलब है कि जम्मू कश्मीर लिबरेशन फ्रंट (जेकेएलएफ) का चेयरमैन मोहम्मद यासीन मलिक टेरर फंडिंग मामले में तिहाड़ जेल में बंद है।

पिछले दिनों यासीन मलिक की तबीयत खराब होने की खबर आई थी, जिसे जेल प्रसाशन ने गलत बताया था। प्रसाशन ने कहा था कि यासीन की सेहत को लेकर चल रही तरह-तरह की अफवाह गलत है। इस दौरान यासीन मलिक की पत्नी मशाल हुसैन ने एक वीडियो संदेश जारी कर जेल में बंद अपने पति की तबियत पर चिंता जताई थी।

इस वीडियो में मलिक की पत्नी ने दावा किया था कि उसकी सेहत बिगड़ रही है और उसे फौरन इलाज की जरुरत है। बता दें कि यासीन जम्‍मू में अलगाववादी नेता में एक प्रमुख चेहरा हैं। इसके बाद जेल प्रशासन ने यासीन की तबियत पर बयान जारी कर बताया कि किसी प्रकार की चिंता की बात नहीं है। उसकी तबियत ठीक है।

बता दें कि केंद्र सरकार ने जम्मू-कश्मीर लिबरेशन फ्रंट (जेकेएलएफ) को आतंक विरोधी कानून के तहत बैन कर दिया है। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) ने जम्मू-कश्मीर में आतंकवादियों और अलगाववादी समूहों को धन मुहैया कराने के मामले में 10 अप्रैल को यासीन मलिक को गिरफ्तार कर जम्मू कोट भलवाल जेल रखा था। बाद में एनआइए की विशेष अदालत ने जांच एजेंसी को उसे हिरासत में लेकर पूछताछ करने का आदेश दिया, जिसके बाद मलिक को दिल्ली लाया गया।

जेकेएलएफ पर आतंकी गतिविधियों को समर्थन करने का आरोप कई बार लगता रहा है। इसे लेकर कई एफआईआर दर्ज हैं, जिनमें वायुसेना के चार अधिकारियों की हत्या का मामला और मुफ्ती मोहम्मद सईद की बेटी रूबैया सईद के अपहरण का मामला शामिल है। यह संगठन आतंक को बढ़ावा देने के लिए अवैध तरीके से धन मुहैया कराने के लिए जिम्मेवार रहा है।


Like it? Share with your friends!

0
admin

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *