बिहार में नक्सलियों का जबरदस्त तांडव, दो सगे भाइयों को गोलियों से भुना, तीसरे की ऐसे बची जान


0

होली के दिन शुक्रवार की देर रात नक्सलियों ने बिहार के जमुई जिले में जमकर उत्पात मचाया. बिहार के जमुई के बरहट प्रखंड के पचेश्वरी गांव में शुक्रवार रात दो बजे करीब सौ की संख्या में आए नक्सलियों ने दो ग्रामीणों की गोली मारकर हत्या कर दी. जानकारी के अनुसार, रात करीब दो बजे जब सभी ग्रामीण पचेश्वरी स्कूल में सोये हुए थे, तभी लगभग सौ की संख्या में आये नक्सलियों ने एक ही परिवार के ती लोगों स्कूल से बाहर बुलाया. जब वह नहीं निकले, तो नक्सली दरवाजे को तोड़ते हुए अंदर घुस गये, जहां उन्होंने एक युवक मदन कौड़ा की गोली मारकर हत्या कर दी.

इसके बाद नक्सलियों ने मदन कौड़ा के दूसरे भाई प्रमोद कौड़ा के कमरे का दरवाजा यह कहकर खुलवाया कि कुछ नहीं करेंगे और दरवाजा खोलते ही उन्होंने प्रमोद की भी गोली मारकर हत्या कर दी. गनीमत रही कि इस दौरान मदन कौड़ा का तीसरा भाई रंजीत कौड़ा शौच के लिए बाहर गया हुआ था. जैसे ही उसने गांव में सैकड़ों की संख्या में नक्सलियों को देखा वह वहां से भाग गया.मीडिया की खबरों के मुताबिक, नक्सलियों की गोली से बचे रंजीत ने तत्काल इसकी सूचना बरहट थाना एवं एसपी को दी. पुलिस सूचना के करीब एक घंटे बाद गांव में पहुंची, लेकिन पुलिस के पहुंचने से पहले ही नक्सली वहां से फरार हो चुके थे.

स्थानीय ग्रामीणों के अनुसार, नक्सली यहां की बच्चियों को भी अपने साथ ले जाना चाह रहे थे. नक्सलियों का कहना था कि वापस अपने गांव लौट जायें. घटना की सूचना के बाद जमुई के एसपी और डीएसपी ने गांव में पहुंचकर मामले की जांच शुरू कर दी है. गौरतलब है कि गुरमाहा गांव के विस्थापित ग्रामीणों ने बीते काफी दिनों से पचेश्वरी स्कूल में रैन बसेरा बना रखा था. नक्सली इससे नाराज बताये जा रहे हैं.
इनपुट:PKM


Like it? Share with your friends!

0
admin

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *