जो भी लोग ये कहते फिरते है 'कहाँ भारत और कहाँ अमेरिका UAE की सड़के' सिर्फ वही पढ़े ये खबर


0

भारत की सड़कों और यहां लगने वाले जाम को लेकर आप अक्सर Twitter, Facebook, Instagram पर कई Memes देखते होंगे। देश में कई जगहों पर या तो अब तक सड़कें नहीं बनी है या जहां बनी हैं वहां लोगों को आए दिन ट्रैफिक जाम का सामना करना पड़ता है। हालांकि, PM Narendra Modi की अगुवाई वाली मोदी सरकार सड़कों के तेज निर्माण को लेकर अपनी पीठ थपथपती रही है। हालांकि, आज हम भारत के सड़कों और यहां के ट्रैफिक हालत के बारे में नहीं बल्कि, यूनाइटेड स्टेट ऑफ अमेरिका के ट्रैफिक हालातों के बारे में बताने जा रहे हैं, जहां जाम की परेशानी को लेकर एक नई रिपोर्ट सामने आई है।
 
दरअसल आपने देखा होगा कि जब भी भारत की सड़कों का जिक्र आता है, आस-पास के लोग अमेरिका की सड़कों की मिसाल देने लगते हैं, लेकिन क्या आपको पता है कि उन बेहतरीन सड़कों पर भी लोगों की परेशानी कम नहीं हो रही है। दरअसल हाल ही में एक रिपोर्ट आई है, जहां बताया गया है कि हर साल अमेरिका की सड़कों एक आदमी का कितना समय ट्रैफिक जाम में बर्बाद हो जाता है। कई लैन वाली इन सड़कों पर भी लोगों को ट्रैफिक जाम में समय बिताना पड़ रहा है।

Texas A&M Transportation Institute ने इसी को लेकर एक रिपोर्ट जारी की है, जहां रिसर्च में पाया गया है कि एक अमेरिकन का साल भर में औसतन 54 घंटे ट्रैफिक जाम में बर्बाद हो जाता है। यानी सीधी भाषा में समझे तो अमेरिका में रहने वाला व्यक्ति साल भर में लगभग ढाई दिन ट्रैफिक जाम में बिता देता है। वहीं, 2017 में पेश की गई रिपोर्ट में बताया गया था कि 15 घनी आबादी वाले शहरों में हर आदमी का 83 घंटा ट्रैफिक जाम में बर्बाद होता है। Los Angeles जो कि सबसे कनजस्टेड मेट्रो एरिया है, वहां औसतन 119 घंटे लोगों के साल भर में ट्रैफिक की भेंट चढ़ जाते हैं।
 
यूनाइटेड स्टेट में साल 2017 में लोगों के बर्बाद हुए इतने घंटे, San Francisco के Oakland शहर में 103 घंटे प्रति साल, Washington के DC में 102 घंटे प्रति साल, New York के Newark में 92 घंटे प्रति साल , Boston में 80 घंटे प्रति साल, Seattle में 78 घंटे प्रति साल, Atlanta में 77 घंटे प्रति साल, Houston में 75 घंटे प्रति साल, Chicago में 73 घंटे प्रति साल, Miami में 69 घंटे प्रति साल यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि ट्रैफिक जाम में समय की बर्बादी का एक बड़ा हिस्सा उस समय का है जब Rush Hour (जब भीड़ वाला समय) नहीं होता है। रिपोर्ट के मुताबिक जाम का 33 फीसदी हिस्सा उस समय का होता है जब भीड़ नहीं होती है।


Like it? Share with your friends!

0
admin

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *