जरुरी सुचना-फेसबुक यूज़ करने वाले जरूर पढ़े ये खबर ,बंद हो जाएगा आपका दाना पानी


0

फेसबुक के संस्थापक मार्क जुकरबर्ग ने नए साल यानी 2018 में फेसबुक की समस्याओं से निपटने का वायदा किया है। एक पोस्ट के जरिए यह वायदा उन्होंने खुद से किया है। इसमें जुकरबर्ग ने लिखा है कि फेसबुक की पॉलिसीज का गलत इस्तेमाल हो रहा है। इस साल वह अपनी गलतियों को सुधारेंगे और यूजर को शानदार अनुभव मिलता रहे इसके लिए प्रयासरत रहेंगे।
सोशल नेटवर्किंग प्लेटफॉर्म फेसबुक के संस्थापक जुकरबर्ग ने हाल ही में एक फेसबुक पोस्ट के जरिए कहा है कि इस साइट के मिसयूज को रोकने के लिए जो पॉलिसी लागू की गईं, उनमें भी काफी गलतियां हुई हैं। बता दें कि पिछले कुछ समय से फेक न्यूज को बढ़ावा देने के चलते फेसबुक की काफी आलोचना हुई। इसके अलावा 2016 में अमेरिका में हुए राष्ट्रपति चुनाव के दौरान भी फेसबुक पर कई तरह के आरोप लगे थे। इन सब को गंभीरता से लेते हुए जुकरबर्ग ने फेसबुक की छवि को बेहतर करने का फैसला लिया है। जिसे नई साल के मौके पर एक पोस्ट के जरिए यूजर्स से साझा किया।

2018 होगा ‘सेल्फ-इम्प्रूवमेंट’ ईयर
एक पोस्ट के जरिए जुकरबर्ग ने यह भी कहा कि वह इस साल को सोशल सइट के लिए ‘सेल्फ-इम्प्रूवमेंट’ ईयर बनाना चाहते हैं। नफरत फैलाने वाले कंटेंट के कारण दुनिया चिंतित और बंटा हुआ महसूस कर रही है। ऐसे में फेसबुक के पास करने को काफी कुछ है। जुकरबर्ग ने पोस्ट के जरिए कहा कि जरूरी मुद्दों पर फोकस करने के लिए उन्होंने एक लिस्ट बनाई है। जैसे कि अपनी कम्युनिटी को नफरत और बुरे व्यवहार से बचाना, राष्ट्रों के दखल से फेसबुक को बचाना। यह सुनिश्चित करना की यूजर फेसबुक पर जो वक्त बिता रहे हैं, वह कीमती समय हो।

समस्या से निपटना पर्सनल चैलेंज
फेक न्यूज और फूहड़ कंटेंट के कारण फेसबुक की हो रही आलोचना को संस्थापक मार्क्स जुकरबर्ग ने गंभीरता से लिया है। जुकरबर्ग ने कहा है कि वह इसे ठीक करेंगे। उनका कहना है कि इस साल यानी 2018 में सोशल साइट पर नफरत फैलाने वाली, गाली-गलौज वाली पोस्ट और फेक न्यूज से निपटना उनका पर्सनल चैलेंज है। हालांकि, सभी गलतियों को हम ठीक नहीं कर पाएंगे, लेकिन फिलहाल हमने अपनी पॉलिसीज को लागू करने में काफी गलतियां की हैं। ऐसे में अपनी साइट के गलत इस्तेमाल से इसे बचाना है। अगर हम इस साल अपने इस प्रयास में सफल रहे, तो यकीनन 2018 का अंत हमारे लिए बेहतर होगा। बता दें कि फेसबुक की शुरुआत 2004 में हुई थी और साल 2009 से ही जुकरबर्ग हर साल एक संकल्प लेते हैं। इस साल उन्होंने फेसबुक पर फेक न्यूज से निपटने का संकल्प लिया है।

सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक अपनी छवि को लेकर काफी गंभीर है। फेसबुक सोशल नेटवर्क पर फर्जी खबरों के प्रसारण पर रोक लगाने के लिए सख्त कदम उठाने की तैयारी में है। फिलहाल कंपनी ने फर्जी खबरें फैलाने वाले फेसबुक पेज के खिलाफ एक कठोर फैसला लिया है। इसके तहत कंपनी ऐसे फे जो फर्जी खबरें चलाते हैं, उन्हें कंपनी की ओर से आर्थिक लाभ मिलना अब बंद हो जाएगा।सबुक पेज को विज्ञापन देना बंद करेगी, जो झूठी सूचनाएं शेयर करते हैं। मुनाफा कमाने के लिए फेसबुक पेज के माध्यम से

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर जैसे ही किसी खबर को विवादित खबर के रूप में मार्क किया जाएगा, तो उसके लिंक को फेसबुक से मिलने वाले विज्ञापन बंद हो जाएंगे। झूठी खबरों पर लगाम कसने के लिए फेसबुक ने खबरों के सत्यापन की जांच करने वाली वेबसाइट्स के साथ साझेदारी की है। दरअसल, पिछले साल अमेरिका में हुए राष्ट्रपति चुनाव के दौरान चुनावों को प्रभावित करने वाली झूठी खबरों को लेकर फेसबुक की काफी आलोचना हुई थी। ऐसे में अपनी छवि को लेकर यह सोशल साइट काफी गभीर है। इस दिशा में वह लगातार महत्वपूर्ण कदम उठा रही है।


Like it? Share with your friends!

0
admin

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *