गंदे पोर्न साइट्स पर जाने से दूर रखेगा ‘हर हर महादेव’, जानें कैसे…


0

डिजिटाइजेशन के इस युग में इंटरनेट अगर लोगों का ज्ञान बढ़ता है, तो गंदे पोर्न साइट्स पर जाने से भी नहीं रोकता. दिक्कत तो तब हो जाती है, जब अवयस्क बच्चे भी पोर्न साइट्स पर विजिट करने से गुरेज नहीं करते. मगर, चिंता करने की कोर्इ बात नहीं है. इंस्टीट्यूट ऑफ बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी ऑफ मेडिकल साइंस (आईएमएस बीएचयू) के न्यूरोलॉजिस्ट और उनकी टीम ने एक ऐसी एप्लीकेशन विकसित की है, जिससे बच्चे तो बच्चे उनके पिता भी गंदे पोर्न साइट्स पर नहीं जा सकते.
 
टीम के सदस्यों का दावा है कि यह एप अनचाही साइट्स को ब्लॉक करने में पूरा सक्षम है. हालांकि, बताया यह भी जा रहा है कि एप्लीकेशन को खास तौर पर छात्रों को अश्लील और गंदी साइट्स से दूर रखने के लिए बनाया गया है. टीम के लोगों ने इसे ‘हर हर महादेव’ नाम दिया है, जो इंटरनेट पर उपलब्ध अश्लील सामग्री को ब्लॉक कर देगा.

खुद ही बजने लगेगा धार्मिक गाना

अंग्रेजी के अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट के अनुसार, एप्लीकेशन डाउनलोड करने के बाद उपभोक्ता जब इंटरनेट पर ‘अनुचित साइट’ पर जायेगा, तब खुद ही धार्मिक गाना बजना शुरू हो जायेगा. आईएमएस बीएचयू न्यूरोलॉजी डिपार्टमेंट के डॉक्टर विजय नाथ मिश्रा कहते हैं कि हमने जो एप विकसित की है, वह वेबसाइट ब्लॉक करने और इंटरनेट फिल्टरिंग में कारगार है. इसलिए कोई भी व्यस्क या आपत्तिजनक साइटों के खुलने के डर के बिना आराम से इंटरनेट पर सर्च कर सकता है.

छह महीने की मशक्कत के बाद विकसित किया गया एप

डॉक्टर मिश्रा आगे कहते हैं कि एप्लीकेशन को विकसित करने में करीब छह महीने लग गये, जो आराम से करीब 3,800 पहचान की गयी साइट्स को ब्लॉक करने में सक्षम है. एप्लीकेशन में हम भी आगे भी काम करेंगे, क्योंकि अश्लील साइट्स की तादाद रोज बढ़ रही है. डॉक्टर मिश्रा के अनुसार, अश्लील साइट्स की जगह पर हिंदू धार्मिक गीत बजने लगेंगे. हमारी योजना अन्य धार्मिक गीत को एप्लीकेशन में शामिल करने की है.

यूनिर्वसिटी के छात्रों के लिए खास मददगार

गौरतलब है कि ‘हर हर महादेव एप्लीकेशन’ को खासतौर पर यूनिवर्सिटी परिसर में पोर्न साइट्स, हिंसात्मक, अश्लील कंटेंट को ब्लॉक करने के लिए विकसित किया गया है. ये एक साथ सैकड़ों साइट्स को ब्लॉक करने में सक्षम है.


Like it? Share with your friends!

0
admin

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *