Breaking News

Rain

बिहार के 12 मध्यम और 7 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट, वज्रपात के भी आसार

बिहार के 12 जिलों में मध्यम और 7 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। 15 अगस्त तक जारी अलर्ट में बिहार में मध्यम और हल्की बारिश की संभावना जताई गई है। वहीं 24 घंटे के अंदर बिहार के 38 जिलों में हल्की से मध्यम बारिश होने की भी संभावना जताई गई है। वहीं नेपाल से सटे बिहार के कई जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।

मौसम विभाग ने किशनगंज, अररिया, मधुबनी, सीतामढ़ी, सुपौल के साथ पूर्वी और पश्चिमी चंपारण में लोगों को मौसम को लेकर अलर्ट किया है।
गुरुवार को मानसून का प्रभाव पूरे बिहार में दिख सकता है। मौसम विभाग का कहना है कि ट्रफ रेखा अमृतसर देहरादून बरेली और गोरखपुर से होते हुए पटना के रास्ते अरुणाचल प्रदेश की तरह गुजर रही है।

वहीं चक्रवर्ती परिसंचरण भी बिहार और पूर्वी उत्तर प्रदेश के आसपास में फैला हुआ है। इस वजह से 24 घंटे में बिहार के कई स्थानों पर हल्की और मध्यम स्तर की वर्षा होने की का अनुमान लगाया गया है। नेपाल के तराई इलाकों में भारी बारिश की संभावना जताई गई है।

मौसम विभाग के अनुसार 15 अगस्त तक बिहार के अधिकांश इलाकों में 43 एमएम तक बारिश होने की संभावना व्यक्त की गई है। विभाग की तरफ से कुछ लोगों के लिए जिन जिलों के लिए 45 एमएम तक बारिश होने का अलर्ट जारी किया गया है। उनमें सुपौल, अररिया, किशनगंज, मधेपुरा, सहरसा, पूर्णिया, कटिहार, भागलपुर, बांका, जमुई सहित 12 जिलों जिले शामिल है।

मौसम विभाग के मुताबिक बंगाल की खाड़ी होते हुए हिमाचल के तरफ सीतामढ़ी बंगाल की खाड़ी से होते हुए। हिमालय की तराई स्थित रक्सौल, सीतामढ़ी, सुपौल, मधुबनी, मोतिहार, अररिया, किशनगंज तक साइक्लोन सर्किल का क्षेत्र बना हुआ है। बंगाल की खाड़ी से नमी बिहार के विभिन्न हिस्से में प्रवेश कर रही है, जिसकी वजह से पटना, गया, शेखपुरा में तेज हवा, वज्रपात के साथ बारिश होने की आशंका जताई गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: