पूरे साउदी में अलर्ट जारी: अगर आप भी हैं अरब में तो ज़रूर पढ़ ले ये अलर्ट नहि तो पड़ेगा पछताना


0

जेद्दाह – सऊदी स्वास्थ्य मंत्रालय ने रविवार को सऊदी में कोरोनवायरस के कारण मध्य पूर्व श्वसन सिंड्रोम (एमईआरएस) के तीन नए मामलों की सूचना दी है. जिसे कॉलेरा भी कहते है. यह बिमारी इतनी खतरनाक है की इसमें चंद घंटों में मरीज़ की मौत हो जाती है. इस बिमारी के चलते शरीर में पानी की कमी हो जाती है.

सऊदी गेजेट के मुताबिक, रियाद में रुमा शहर में पहला मामला दर्ज किया गया था, जहां 38 वर्षीय शख्स ने बीमारी का अनुबंध किया था.इसके बाद बुरीदाह में, कासिम क्षेत्र में, 62 वर्षीय शख्स में कॉलेरा के लक्षण दिखाई दिए. रियाद में तीसरा मामला दर्ज किया गया था, जहां 34 वर्षीय शख्स बीमारी से संक्रमित था, जिससे बुखार, खांसी और सांस की तकलीफ के साथ तीव्र श्वसन जैसे समस्या होती है.

मंत्रालय ने कहा कि सभी मरीजों का इलाज चल रहा है. मंत्रालय ने कहा की अगर इस बिमारी के संक्रमण को जल्द नहीं रोका ज्ञ तो यह बाकी इलाकों में भी तेज़ी से फ़ैल जाएगी.

रियाद के 44 वर्षीय व्यक्ति और होफुफ के 64 वर्षीय व्यक्ति दोनों को एमईआरएस-कोवी होने का निदान किया गया था और उन्हें उनके संक्रमण के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया. दोनों मामलों को प्राथमिक के रूप में वर्णित किया गया है और ऊंट के संपर्क से जुड़ा हुआ है.
 
आपको बता दें की इससे पहले सऊदी में बर्डफ्लू फैला था जिसके चलते भारत से मुर्गों का आयात बंद कर दिय गया था.


Like it? Share with your friends!

0
user

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *