दिल्ली में ड्राइविंग लाइसेन्स बनवाने जा रहे हैं तो देना होगा एक और मेडिकल टेस्ट, 7 स्टेप में पूरा लाइसेन्स होगा तैयार

1 min


0

क्या आप ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए आरटीओ (RTO) ऑफिस जा रहे है? अगर हां तो अब आपको Covid-19 टेस्ट कराना पड़ सकता है. देशभर में बढ़ रहे कोरोना केस को रोकने के लिए विभाग की ओर से यह प्रस्ताव रखा गया है. इसके अलावा देशभर में कोरोना टेस्टिंग को बढ़ाने के लिए ये देशभर में जगह-जगह शिविर लगाकर टेस्टिंग की जा रही है.

 

आपको बता दें यह पहल साउथ ईस्ट दिल्ली डिस्ट्रिक्ट एडमिनिस्ट्रेशन की ओर से शुरू की गई है और जल्द ही दूसरे राज्यों के RTO ऑफिस में यह काम शुरू हो जाएगा. बता दें सभी शहरों में जिला अधिकारी सार्वजनिक स्थानों पर शिविर लगा रहे हैं. इसके अलावा राजधानी दिल्ली के साउथ ज़ोन और सेंट्रल ज़ोन में स्थित आरटीओ ऑफिस और सराय काले खां स्थित ऑफिस में भी कोविड-19 की टेस्टिंग की जा रही है.

 

कर्मचारियों के वर्किंग टाइम को बढ़ाना होगा-

अंग्रेजी के अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, आरटीओ ऑफिसर्स ने बताया कि इस समय कोविड टेस्ट कराने के लिए लोग बड़ी संख्या में हमारे ऑफिस आ रहे हैं. उन सभी लोगों का टेस्ट कराने के लिए हमें अपने कर्मचारियों के वर्किंग ऑवर को बढ़ाना होगा क्योंकि…रेपिड टेस्ट करने और उसके रिजल्ट में समय लगता है, जिसकी वजह से लोगों को इंतजार भी करना पड़ता है.

 

दिल्ली की जिला मजिस्ट्रेट ने दी जानकारी-

साउथ ईस्ट दिल्ली की जिला मजिस्ट्रेट हरलीन कौर ने कहा कि आरटीओ सरकार की ओर से जारी की गई गाइडलाइन को फॉलो कर रहा है और RTO ऑफिस के इस कदम से पहले ही लोगों को कोविड के बारे में पता चल जाएगा.

 

कितने बजे से होगा कोविड टेस्ट- 

ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट ने बताया कि कैंप में टेस्टिंग सुबह 8:30 बजे से 11 बजे तक होगी. इसके अलावा हम लोग टेस्टिंग के लिए नई जगह लेने का भी प्लान कर रहे हैं क्योंकि हमारे यहां जिस तरह से हर दिन कोरोना टेस्टिंग के मामले बढ़ रहे हैं. इसके देखते हुए और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए ऐसा करना जरूरी है.

 

कैसे करें DL के लिए ऑनलाइन अप्लाई-

1. पहले आप सारथी वेबसाइट पर जाएं और ऑनलाइन आवेदन फार्म डाउनलोड करें.
2. स्क्रीन पर दिए गए निर्देशों के अनुसार फॉर्म को भरने का काम करें.
3. ‘जमा करें’ पर क्लिक करें

4. यदि आवेदक एक नाबालिग है, तो फॉर्म के प्रिंट आउट लें और पार्ट D को भर लें. उसके बाद निकटतम आरटीओ में जाकर लाइसेंस देनेवाले अधिकारियों की मौजूदगी में पार्ट D पर माता-पिता / संरक्षक द्वारा सिग्नेचर कराना होता है.

5. आवेदन पत्र के साथ सभी आवश्यक दस्तावेज अपलोड करें ( जैस उम्र का प्रमाण, पते का प्रमाण, लर्नर लाइसेंस नंबर)
6. सबमिट करने के बाद एक वेब एप्लीकेशन नंबर आपको प्राप्त होगा, जो बाद में एप्लीकेशन स्थिति को ट्रैक करने के लिए उपयोग किया जाता है.

7. आवेदन पूरा हो जाने के बाद, रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर आपको कन्फर्मेशन मैसेज भेज दिया जाएगा.


Like it? Share with your friends!

0
Digital Desk

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *