Breaking: दुबई में गरीबी में जिंदगी जी रहे गरीब भारतीय ड्राईवर ने जीते 21 करोड़ रूपये

1 min


0

अगर आप कोई बड़ी रकम जीत जाते हैं और अचानक से आपकी कोई बड़ी लोट्री लग जाती है तो आप क्या लोगे? यह सवाल जब 21 करोड़ जीतने वाले भारतीय ड्राईवर से मंगलवार को दुबई में पुछा गया तो उसने जवाब दिया की पुराने फ़ोन को बदलकर नया स्मार्ट फ़ोन खरीद लूँगा.
 

 
दुबई में काम करने वाला ड्राईवर, जॉन वर्घेसे जो की भारत के दक्षिण  राज्य केरल का रहने वाला है ने दुबई में 12 मिलियन दिरहम जीत लिए हैं, जॉन को लगा की कोई उसका अप्रैल फूल डे प्रैंक बना रहा है.

“मुझे लगा की अप्रैल फूल डे प्रैंक होगा”

अबू धाबी इंटरनेशनल एयरपोर्ट में विनर का नाम घोषित हो जाने के बाद जॉन को आयोजक ने कॉल किया, जिसके बाद यह खबर मिलते ही जॉन ने कहा की “मै विश्वास नहीं कर सकता की मै वह लकी विजेता बन पाऊंगा, अप्रैल फूल डे अभी हाल ही में खत्म हुआ है तो मुझे लगा की कोई मेरा प्रैंक लेट में बना रहा हो या कोई दोस्त मेरी टांग खिचाई कर रहा हो, मुझे यह भी संदेह हो रहा था की कोई यह नकली कॉल भी हो सकता है.”
जॉन ने कहा की “मैंने एक साल पहले से यह टिकट खरीदना शुरू किया, अब कभी मै अपने खुद के रुपयों पर भी टिकट खरीदना चाहूँगा और यह पैसा मै अपने चार दोस्तों में बाटूंगा क्योंकि उन्होंने टिकट खरीदने में मेरी मदद की और मुझे टिकट 093395 दिलाया.”
खलीज टाइम्स के अनुसार जॉन ने 2016 में दुबई की धरती पर कदम  रखा और दुबई में एक ड्राईवर के रूप में काम करना शुरू किया.
जब जॉन से पुछा गया की क्या वह इस लोटरी के साथ केरल वापस चला जाएगा तो जॉन ने कहा की “नहीं, मैं यहां काम करना जारी रखूंगा, मैंने आज जो कुछ भी हासिल किया है वह दुबई ने ही मुझे दिया है, यह दिन इसलिए हुआ क्योंकि मैं यहां दुबई में काम कर रहा हूं. मेरा एक छोटा सा परिवार है, दो बच्चे हैं, एक लड़की जो की अभी 12वीं ग्रेड में है और लड़का 5 वीं ग्रेड में हैं, उनकी पढ़ाई पर निवेश करने से बेहतर क्या हो सकता है.

“अपने पुराने दिन नहीं भूलूंगा”

जॉन ने कहा की “यहाँ मैं कई कठिनाइयों का सामना करने के बाद हूं, मैं जरूरतमंद लोगों की मदद के लिए एक हिस्से को अलग रखूँगा क्योंकि मुझे अपने पिछले दिनों को नहीं भूलना चाहिए, मैंने भी बेहद गरीबी में यहाँ दिन गुजारे हैं.”
जब जॉन से पुछा गया की इस दिन को कैसे मनाया जा रहा है, क्या  आयोजन किया जा रहा है तो जॉन ने जवाब दिया की “मैंने अभी तक योजना नहीं बनाई है. हम दोस्त मिलकर एक साथ योजना बनायेंगे.”

“बदलूँगा अपना फ़ोन”

हालाँकि जॉन ने कहा “जो पहली चीज वह बदलना चाहते हैं वह होगा उनका मोबाइल”


Like it? Share with your friends!

0
user

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *