0

दुबई। क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान (एमबीएस) को आतंकी संगठन अल-कायदा ने चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि धर्मनिरपेक्षता के नाम पर सऊदी अरब में जो कुछ भी हो रहा है, वो पाप और बेतुकापन है। मोहम्मद बिन सलमान ने क्राउन प्रिंस बनने के बाद सऊदी अरब में रूढ़िवादी कुरीतियों को खत्म करने के लिए कई बड़े कदम उठाए हैं। इस बीच यमन के जिहादी ग्रुप ने अपने मदद न्यूज बुलेटिन के जरिए एक वीडियो जारी कर कहा है कि मोहम्मद बिन सलमान ने न्यू ऐरा के नाम पर मस्जिदों की जगह सिनेमा घरों को स्थापित किया है। इस बुलेटिन की पहचान साइट (SITE) के एक खुफिया समूह ने की है।
 
इसके बाद साउडी अरब में आलेरत और सुरक्षा व्यवस्था चक चौबंद कर दी गयी हैं और हर विभाग को आलेरत कर दिया गया हैं. लोगों से भी अपील की गयी हैं की उन्हें अगर कुछ भी संदेहवाला दिखाई देता हैं तो फ़ौरन पुलिस को सूचना दे. उनकी पहचान गोपनीय रखी जाएगी.
 
अल-कायदा ने अपने बुलेटिन में कहा है कि मोहम्मद बिन सलमान अपनी नीतियों से पूर्व और पश्चिम के नास्तिक और धर्मनिरपेक्षता के बेतुकापन के साथ-साथ भ्रष्टाचार और नैतिक अतिक्रमण के लिए दरवाजे खोल दिए हैं। इस सुन्नी जिहादी ग्रुप ने अप्रैल में सऊदी के जेदाह में डब्ल्यूडब्ल्यूई का रॉयल रंबल इवेंट के लिए भी क्राउन प्रिंस की कड़ी आलोचना की है।
 
 
क्राउन प्रिंस सलमान ने रूढ़िवादिता को खत्म कर सऊदी अरब को एक नए युग में प्रवेश कराया है। क्राउन प्रिंस ने ना सिर्फ भ्रष्टाचार के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की है, बल्कि महिलाओं की आजादी का ख्याल रखते हुए अपने मुल्क में बहुत बदलवा किए है। सऊदी में महिलाओं को ड्राइविंग की इजाजत से लेकर ग्राउंड जाकर मैच देखने की इजाजत दी गई है। वहीं, उन्होंने अपने मुल्क में सिनेमाघरों को भी बहाल किया है।
 
 
बता दें कि क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान सऊदी अरब में अब तक के सबसे लोकप्रिय शख्सियत के रूप में उभर रहे हैं। जिन्हें कुछ कट्टरवादियों को छोड़ पूरे सऊदी अरब से प्यार मिल रहा है और लोग उनकी नीतियों से भी बेहद खुश है।


Like it? Share with your friends!

0
user

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: