Tuesday, October 19

Day: September 16, 2021

बिहार -बरौनी रिफाइनरी में भयंकर ब्लास्ट 19 अधिकारी ,कर्मी, एवं मजदूर हुए भर्ती
Bihar

बिहार -बरौनी रिफाइनरी में भयंकर ब्लास्ट 19 अधिकारी ,कर्मी, एवं मजदूर हुए भर्ती

आज बरौनी रिफाइनरी के प्लांट में सुबह करीब 10:30 बजे ब्लास्ट होने के कारण 15 से अधिक अधिकारी और मजदूर जख्मी हो गया बताया जा रहा है 10:00 बजे एवीयू one के फर्नेस ब्लास्ट होने के कारण 15 अधिकारी कर्मी एवं मजदूर जख्मी हो गए जख्मी लोगों को रिफाइनरी अस्पताल समेत ग्लोकल अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया सूत्रों के अनुसार कुछ लोगों की मौत की खबर को अफवाह बताते हुए कुल 19 लोगों की जख्मी होने की पुष्टि की गई ईडी शुश्री शुक्ला मिस्त्री ने बताया कि सभी जख्मी का इलाज रिफाइनरी अस्पताल एवं लोकल में किया जा रहा है उन्होंने कहा दुर्घटना में मौत की खबर महज अफवाह है सभी घायलों का इलाज चल रहा है तथा सभी खतरे से बाहर हैं फर्निश ब्लास्ट होने के बाद विरोध में आसपास की कई पंचायतों के सैकड़ों लोग बरौनी रिफाइनरी के मुख्य द्वार पर जमा होकर जमकर नारेबाजी करने लगे और दुर्घटना में मरे हुए लोगों के न...
बिहार के दो बच्चे बिना लॉटरी के बने करोड़ पति खाते में आये 900 करोड़
Bihar

बिहार के दो बच्चे बिना लॉटरी के बने करोड़ पति खाते में आये 900 करोड़

बीते कुछ दिनों से बिहार के विभिन्न लोगों के अकाउंट में पैसे की आवाजाही चालू है अभी खगड़िया का मामला ठंड नहीं पढ़ था तभी कटिहार के कक्षा छठवीं के 2 छात्र के अकाउंट में लगभग 960 करोड रुपए अचानक से आ गया अकाउंट में इतनी बड़ी रकम को देख गांव वालों ने बैंक और सीएसपी केंद्रों पर अपने अपने अकाउंट की राशि को जानने के लिए लंबी कतार लगाने लगे मामला बिहार के कटिहार जिले के आजमनगर प्रखंड पस्तिया गांव से जुड़ा है, जहां बुधवार की शाम से ही हर शख्स अपने बैंक खाते का बैलेंस चेक कर रहा है.उत्तरी बिहार ग्रामीण बैंक में खाता धारक कक्षा 6 में पढ़ने दो बच्चों के खाते में एक साथ करोड़ों रुपए की राशि आ गई. कक्षा 6 में पढ़ने वाले आशीष के खाते में 6 करोड़ 20 लाख 11 हज़ार 100 रुपए और गुरु चरण विश्वास के खाते में 905 करोड़ से अधिक की राशि आ गई. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक बैंक के शाखा प्रबंधक मनोज गुप्ता ...
12 परिवार एक साथ आकर इस मुहल्ले मे बस गए थे ,इस लिए इसे बरहपुरा के नाम से जाना जाने लगा
Bihar, Knowledge, Motivation, Uncategorized, भागलपुर

12 परिवार एक साथ आकर इस मुहल्ले मे बस गए थे ,इस लिए इसे बरहपुरा के नाम से जाना जाने लगा

स्मार्ट सिटी भागलपुर गलियों और मोहल्लों की कमी नहीं है वैसे तो यह गलियां और मोहल्ले कई वर्षों पुराने भागलपुर के पूर्वजों की देन है जो आज भी भागलपुर में वह नगर वह मोहल्ले जीवित है आइए जानते हैं आदमपुर मुंदी चौक सराय चौक ततारपुर मुजाहिद पुर नरगा कोठी तथा अन्य मोहल्लों का नाम कैसे पड़ा भागलपुर नगर के कुछ मुहल्लों के नाम की हकीकत – मोजाहिदपुर – इसका नाम 1576 ई बादशाह अकबर के एक मुलाज़िम मोजाहिद के नाम पर नामित हुआ था सिकंदर पुर – बंगाल के सुल्तान सिकंदर के नाम पर यह मुहल्ला बसा । ततारपुर – अकबर काल मे एक कर्मचारी तातार खान के नाम पर इस मुहल्ले का नाम रखा गया । काजवली चक – यह मुहल्ला शाहजहाँ काल के मशहूर काज़ी काजी काजवली के नाम पर पड़ा । उनकी मज़ार भी इसी मुहल्ले मे है । नरगा – इसका पुराना नाम नौगजा था यानी एक बड़ी कब्र कहते हैं कि खिलजी काल मे हुये युद्ध के शहीदो को एक ही बड़े कब्र मे...