Tuesday, October 19

सृजन घोटाला में प्रशासनिक अधिकारी की पत्नी शामिल करोड़ो के 7 फ्लैट और दुकानें हुई जब्त

सृजन घोटाले पर ईडी की एक बहुत बड़ी कार्यवाही आज सामने आई है इसके अंतर्गत उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में मौजूद करीब 10 प्रमुख आरोपितों के साथ फ्लैट और छह दुकानों को जप्त कर लिया है इनमें भारती ठाकुर भी शामिल है जो एक प्रशासनिक अधिकारी की पत्नी बताई जा रही हैं  ये प्रशासनिक अधिकारी सबौर के सीओ, भागलपुर के जिला पंचायती राज पदाधिकारी व जमुई के डीडीसी रह चुके हैं.

यह सभी 7 फ्लैट गाजियाबाद के सबसे लग्जरी अपार्टमेंट कॉलोनी  में से एक गार्डेनिया कॉलोनी के अलग-अलग लोकेशन फेज 1 फेस 2 में मौजूद है आपको बताते चलें कि एक फ्लैट का  वर्तमान बाजार मूल्य दो से ढाई करोड़ रुपए तथा अन्य कुछ फ्लैटों की कीमत इससे भी ज्यादा बताई जा रही है

सभी फ्लैट सृजन घोटाले के प्रमुख आरोपित या उनकी पत्नियों के नाम से है इनके अलावा जो दुकाने जप्त की गई है वह भी इसी सोसाइटी या इसके आसपास ही मौजूद है दुकानों को भी कई आरोपितों ने अपनी अपनी पत्नी के नाम पर बुक करा रखा है जैसे दिवंगत मनोरमा देवी के पुत्र अमित अमित कुमार एवं बहू रजनी प्रिया आस्था लाल (पुत्र सीमा कुमारी) डॉ प्रणव कुमार डॉक्टर अमीना बानो अंसारी भारती ठाकुर रूबी कुमारी (पति विपिन कुमार) एवं अन्य के नाम से है

कार्रवाई के दौरान गार्डेनिया सोसायटी के फेस 2 में दो नंबर की एक दुकान है जो सृजन महिला विकास सहयोग समिति लिमिटेड के नाम से खरीदी गई थी फिलहाल इसे भी जप्त कर लिया गया है तथा सृजन घोटाले से जुड़े कुछ अन्य आरोपितों के नाम पर भी फ्लैट होने का पता चला है जांच जारी है जल्द ही कुछ अन्य फ्लैट और दुकानों के बारे में भी जानकारी मिलने की आशंका है  जिसे सृजन घोटाले के पैसे से यहाँ खरीदा गया है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: