सऊदी में हैं तो ख़ुशख़बरी: कल से इस यहा फ़्री में सफ़र कर पाएँगे, किंग अब्दुल्लाह ने की घोषणा


0

सऊदी की हरमाईन एक्सप्रेस ट्रेन लाइन प्रोजेक्ट के प्रबंधन ने कहा कि यह सिर्फ सऊदीयों को अनुमति देगा की वह इस जुमे यानी 1 जून से ट्रेन में फ्री सफ़र कर सकेंगे. अगले महीने से 1 तारीख से फ्री सवारी टिकट बुक करने के लिए पंजीकरण करने के लिए नई एक्सप्रेस ट्रेन का लुत्फ़ उठा सकते है.
 
अल अरेबिया के मुताबिक, किंग अब्दुल्लाह इकोनॉमिक सिटी के माध्यम से मदीना और मक्का के दो पवित्र शहरों के बीच यात्रा करने के लिए मुफ्त सवारी, इस शुक्रवार, 1 जून से शुरू होगी और हर सप्ताह के अंत में आयोजित की जाएगी.
 
सार्वजनिक परिवहन प्राधिकरण के अध्यक्ष रुमाईह अल-रुमाईह ने सऊदी प्रेस एजेंसी को बताया कि परियोजना के इस महत्वपूर्ण चरण में सऊदी लोगों की राय और सुझाव प्राप्त करने की आवश्यकता है क्योंकि वे परियोजना की सफलता के लिए एक प्रमुख भागीदार हैं, इसलिए सऊदीयों को यह फ्री सेवा दी जा रही है ताकि वह सफ़र का लुत्फ़ उठा सकें और ट्रेन का अच्छी तरह से जाएजा ले सकें.

रुमाईह ने कहा कि सितंबर में ट्रेन शुरू होने तक हर सप्ताहांत में मुफ्त सवारी होगी, और साथ ही उन्होंने कहा कि इस शुक्रवार को पहली फ्री सवारी मदीना से मक्का तक होगी.

 जल्द शुरू होगी हरमाईन ट्रेन सेवा, यह है ख़ास 

सऊदी देश में जिस ट्रेन और ट्रेन की स्पीड की बात काफी समय से हो रही है, वह जल्द ही सऊदी अरब में शुरू कर दी जाएगी. परिवहन मंत्री और सऊदी रेलवे संगठनों के अध्यक्ष नबील अल अमुदी ने पिछले महीने कहा था की “SR60  बिलियन की लागत से बनी हरमाइन ट्रेन इस वर्ष शुरू होने के लिए पूरी तरह से ट्रैक पर है.”

पूरी तरह से तैयार है यह 

उन्होंने कहा था की “2018 में यह पुरे तरीके से पूर्ण सुविधाओं और सुरक्षा के साथ जनता के लिए अपनी सेवा निभाने के लिय तैयार है.’

अल-अमोदी ने कहा कि रेलवे 2019 की शुरुआत में पूरी तरह से परिचालित होने तक सालाना 60 मिलियन यात्रियों को ले जा सकेगी. यह 450 किलोमीटर की मुख्य लाइन राजा अब्दुल्ला इकोनॉमिक सिटी के माध्यम से यात्रा करेगी, जिसमें जेद्दाह में नए राजा अब्दुलजाज अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे (केएआईए) की एक छोटी शाखा रेखा होगी.
अरब न्यूज के अनुसार उन्होंने कहा की “परिवहन राष्ट्रीय अर्थव्यवस्था का मुख्य स्तंभ है और आर्थिक पुनर्जागरण का एक प्रमुख चालक है जो सऊदी अरब की विजन 2030 रणनीति के तहत होगा.


Like it? Share with your friends!

0
user

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *