सऊदी में फंसे 14 भारतीय, कंपनी ने बनाया बंधक, एजेंट ने ऐसा बनाया उल्लू!

1 min


0

एक बार फिर से सऊदी में भारतियों को उनकी कंपनी द्वारा बंधक बनाने की बात सामने आई है. जानकारी के अनुसार तीन महीने का वीजा खत्म होने के बाद 14 भारतीय युवकों को उनकी कंपनी ने कैद करके के रख लिया है. ये सब एक एजेंट के चक्कर में पड़कर सऊदी में फंसे हुए हैं. बताया जा रहा है कि एजेंट ने इन युवकों से यह कहा था कि 3 महीने के टूरिस्ट वीजा के बाद कंपनी के मालिक इनका वर्क परमिट जारी करवाएगा, लेकिन वर्क वीजा नहीं बनाया गया. इन 14 युवकों में 13 हिमाचल और एक पजाब से हैं. चौदह में 9 हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले के सुंदरनगर से हैं. नौ युवकों के परिजनों ने सुंदरनगर में पुलिस में शिकायत दी है. साथ ही विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मदद की गुहार लगाई है. उधर सुंदरनगर के विधायक राकेश जम्वाल ने कहा कि है कि केंद्र सरकार के समक्ष यह मामला उठाया जाएगा.

जाने पूरा मामला
सुंदरनगर निवासी हरजिंदर सिंह की पत्नी सरोज कुमारी ने अन्य बंधकों के परिजनों के साथ सुंदरनगर थाना में आकर न्याय की गुहार लगाई है. ये 14 युवक 4 महीने पहले सऊदी अरब में अजिविका कमाने के लिए गए थे. इनमें से 9 युवक सुंदरनगर, 4 बल्ह और 1 पंजाब से है. सरोज कुमारी पत्नी हरजिंदर सिंह निवासी भोजपुर सुंदरनगर ने अपने शिकायत पत्र में आरोप लगाते हुए कहा है कि उसका पति 4 महीने पहले सऊदी अरब कमाने के उद्देश्य से गए था और विदेश भेजने वाले एजेंट मोहमद आसिफ पुत्र नूर राही निवासी डुगरांई ने उनसे 90 हजार रुपये लिए थे.

टूरिस्ट वीजा पर भेजे गए थे
सरोज कुमारी ने कहा है कि सऊदी अरब जाते समय उसके पति का 3 महीने का टूरिस्ट वीजा था और एजेंट ने वहां उनके मालिक द्वारा आगे का वीजा बनाने की बात कही गई थी. उन्होंने कहा कि सऊदी अरब जाते समय उन्हें 8 घंटे की ड्यूटी बताई गई थी लेकिन 3 महीने पूरे होने के बाद ना ही उनका आगे का वीजा बनाया गया और ना ही उनकी वेतन समय पर दिया गया. सरोज कुमारी ने कहा कि जब उसके पति व अन्य युवकों ने अन्य सऊदी अरब में हड़ताल की तो उनके पैसे काट लिए गए और 12 घंटे की ड्यूटी के बाद उन्हें ओवरटाइम भी नहीं दिया गया. उन्होंने कहा कि बीमारी की हालत में भी उनसे काम वहां पर काम करवाया जा रहा है.

एजेंट ने यह बताया था
सरोज कुमारी का कहना है कि जब इस बारे में एजेंट से बात की तो उसने भी उसे धमकी दी कि उन्हें कहो, चुपचाप काम करो नहीं तो वह वहां उन्हें किसी केस में फंसा देगा. सरोज कुमारी ने कहा कि सऊदी अरब में उसके पति के साथ तनुज कुमार, रविकांत, अश्वनी सांयान,श्यामलाल, ओंकार चंद, देवेंद्र कुमार,विक्रम चंद, प्रेम सिंह, देवेंद्र कुमार,जोगिंद्र सिंह, ललित कुमार, मनोज कुमार व भूपेंद्र कुमार हैं. सरोज कुमारी ने कहा कि यह सब वापिस भारत आना चाहते हैं लेकिन उनका मालिक उनके पासपोर्ट भी नहीं दे रहा है. सरोज कुमारी व अन्य परिजनों ने 14 युवकों और उनके परिवार की परेशानी को ध्यान में रखकर प्रदेश पुलिस और प्रदेश व केंद्र सरकार से न्याय की गुहार लगाई है.


Like it? Share with your friends!

0
user

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *