0

कई सऊदी परिवारों में महिलाएं रमजान के पाक महीने के बाद ड्राइविंग करने के लिए बेसब्री से इंतजार कर रही हैं क्योंकि सऊदी में महिला ड्राइविंग पर लगा प्रतिबंध 24 जून को हमेशा के लिए खत्म होने जा रहा है. यह खबर सूदू महिलाओं के लिए जितनी अच्छी है उतनी ही बुरी यह खबर प्रवासी ड्राइवरों के लिए है.

सऊदी गेजेट के मुताबिक, यह उम्मीद की जाती है कि कई परिवार निजी ड्राइवरों की सेवाओं को पूरी तरह खत्म कर देंगे क्योंकि अब सऊदी महिलाओं खुद ड्राइविंग कर सकेंगी तो अब उन्हें ड्राईवर की ज़रूरत नहीं पड़ेगी. हालांकि, कई प्रवासी ऐसे भी है जो सिर्फ ड्राइविंग पर निर्भर नहीं है वह ड्राइविंग के साथ अन्य काम भी करते है जिसपर महिला ड्राइविंग का ज्यादा असर नहीं दिखेगा.

अरब नामा को मिली जानकारी के मुताबिक, एक पूर्व रिपोर्ट के मुताबिक, इस साल की शुरुआत से प्रवासी ड्राइवरों की नौकरियों में 40 प्रतिशत की गिरावट आई है. यह भी उम्मीद है कि अब प्रवासी ड्राइवरों की भर्ती की लागत 33 प्रतिशत घट जाएगी.
सांख्यिकी के सामान्य प्राधिकरण के मुताबिक, 2017 की पहली तिमाही में सऊदी में प्रवासी ड्राइवरों की संख्या 1.38 मिलियन थी. उन्हें औसत मासिक 15,000 सऊदी रियाल हर महीने सैलरी मिलती थी. लेकिन जबसे सितम्बर में सऊदी सरकार ने सही आदेअश जारी किया था कि सऊदी अरब में महिला भी ड्राइविंग कर सकेंगी इसके बाद से प्रवासी ड्राइवरों को खासा दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है.

सऊदी इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग छात्र अबर वाफा ने कहा कि वह निश्चित रूप से तीन कारणों से अपने ड्राइवर पर निर्भरता खत्म कर देगी. वह कहती है कि जब वह खरीदारी करती है तो वह दोषी महसूस करती है, क्योंकि ड्राईवर को मॉल के बाहर घंटों तक इंतजार करना पड़ता है. लेकन अब मैं खुद कार चला सकुंगी तो मैं काफी आज़ाद महसूस कर रही हूँ.
दूसरा, उनके और उनके परिवार के लिए खुद से ड्राइव करना सुरक्षित है. उन्होंने कहा कि, ” अब मेरी बेटी को किसी पराये मर्द के साथ सफ़र करने की ज़रूरत नहीं है क्योंकि वह खुद ड्राइविंग कर सकती है.
INPUUT:arabnama


Like it? Share with your friends!

0
Digital Desk

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *