0

वैसे तो सऊदी में रहने वाले हर शख्स को यह अधिकार है कि, वह अपना पालन पोषण करने के लिए किसी भी तरह के बिज़नस को शुरू कर सकता है. लेकिन हर कारोबार की शर्त होती है कि सार्वजनिक जीवन या देश के हितों के लिए कोई खतरा पैदा ना हो.
 
 
सऊदी गेजेट के मुताबिक, आर्थिक निराशा और वित्तीय सुरक्षा जाल की अनुपस्थिति ने कई लोगों को अनौपचारिक और कभी-कभी अवैध व्यावसायिक गतिविधियों में धकेल दिया है. ऐसे लोग अक्सर बाधाओं और कम निवेश की आवश्यकता की वजह से सड़कों पर ठेले लगाकर फल-सब्जियों का कारोबार करते हैं.
 
 
सामान्य रूप से सड़क विक्रेताओं को सऊदी में अवैध माना जा रहा है और उन्हें अक्सर पुलिस या अन्य कानून प्रवर्तन प्राधिकरणों द्वारा गिरफ्तारी का सामना करना पड़ता है. इस तरह की व्यापारिक गतिविधियों में प्रवेश करने वाले  बेरोजगार हैं, “जिसमें बड़ी संख्या में प्रवासी शामिल है.”

SOURCE: SAUDI GAZETTE

प्रवासी सऊदी की सड़कों पर अपनी मर्जी के स्थानों पर ठेले लगा लेते है जिसकी वजह से शहर के अधिकारियों के लिए एक बड़ा सिरदर्द है जो ना सिर्फ संभावित निवेशकों बल्कि निवासियों के लिए एक आकर्षक छवि पेश करने के लिए अच्छा नहीं है. हालांकि, वास्तव में ज्यादातर विक्रेता सड़कों पर काम नहीं करना चाहते हैं, लेकिन कठिन आर्थिक परिस्थितियों ने उन्हें यह काम करने पर मजबूर कर दिया है.
 
किसी भी टिकाऊ समाधान की अनुपस्थिति में, जबरन इन सड़कों से इन लोगों को हटाने से उन्हें पहले से ही मुश्किल परिस्थितियों में असंवेदनशील माना जा रहा है.

बिना लाइसेंस के कर रहे कारोबार

इस मुद्दे में और गहराई से डूबने के बाद, अल-रियाद ने सार्वजनिक और विक्रेताओं दोनों के हितों को ध्यान में रखकर सड़क विक्रेताओं के व्यवसाय को नियंत्रित करने की आवश्यकता पर अपने विचारों के लिए कई अधिकारियों, विशेषज्ञों और पर्यवेक्षकों से मुलाकात की.

SOURCE: SAUDI GAZETTE

उन्होंने कहा कि सड़कों में अपनी मर्जी की जगहों में अपनी माल बेचने वाले विक्रेताओं को निश्चित रूप से सार्वजनिक उपद्रव है, लेकिन यह स्थानीय अधिकारियों को इस क्षेत्र को नियंत्रित करने के लिए व्यवहार्य कदम उठाने की आवश्यकता पर बल देता है. नगर पालिका विक्रेताओं को लाइसेंस जारी करके या आदर्श स्थानों में कियोस्क स्थापित करके गतिविधि को औपचारिक रूप से कार्यान्वित कर सकती है. अगर आप भी प्रवासी हैं और यहा इस काम से अपना जीवन चला रहे तो आपको ज़्यादा चिंतित नही होना हैं बस आपको नगर पालिका से लाइसेन्स लेना हैं और सरकार इस कार्य में काफ़ी मददगार मूड में हैं.


Like it? Share with your friends!

0
user

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: