सऊदी महिला डॉक्टर के साथ प्रवासी युवक ने किया गंदा काम, उसी ने की थी मदद, अब कर रहा ब्लैकमेलिंग


0

मुंबई: सऊदी अरब के एक डॉक्टर दंपती को मुंबई के 26 साल के एक युवक की वहां मदद करना भारी पड़ गया। मोहम्मद ताबीश मलिक नामक इस आरोपी ने इस दंपती के मोबाइल से डेटा चोरी कर महिला डॉक्टर को मुंबई आकर ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया। ताबीश को रविवार को एसीपी नेताजी भोपले और इंस्पेक्टर संजय निकुंबे की टीम ने जोगश्वरी से गिरफ्तार किया है।

क्राइम ब्रांच के एक अधिकारी के अनुसार, शिकायतकर्ता डॉक्टर दंपती मूल रूप से जम्मू कश्मीर का निवासी है। एमबीबीसी की डिग्री लेने के बाद कुछ साल से वह दंपती सऊदी अरब के एक सरकारी अस्तपाल में नौकरी कर रहा था। वह वहां अक्सर एक खास मॉल से ही सामान खरीदता था। मोहम्मद ताबीश इस मॉल में नौकरी करता था। खरीदारी के दौरान उसे पता चला कि डॉक्टर दंपती भारतीय है। इसीलिए उसने उससे दोस्ती बढ़ानी शुरू कर दिया। बाद में उसने इस दंपती से थोड़ी आर्थिक मदद मांगी। डॉक्टर दंपती ने उसकी जब-तब मदद की।

चुराया मोबाइल डेटा

कुछ पखवाड़े पहले डॉक्टर दंपती को सऊदी अरब में घर शिफ्ट करना था। उस दौरान उन्होंने उसे उनकी मदद के लिए बुलाया। उसी दौरान आरोपी मोहम्मद ताबीश ने महिला डॉक्टर के मोबाइल का सारा डेटा अपने मोबाइल में ट्रांसफर कर लिया, जिसमें दंपती के अंतरंग सीन भी थे। कुछ दिनों बाद पुरुष डॉक्टर एमडी की पढ़ाई के लिए जम्मू कश्मीर आया। आरोपी मोहम्मद ताबीश को जब इस बारे में पता चला, तो उसने महिला डॉक्टर को ब्लैकमेल करने का फैसला किया, पर उसे डर था कि यदि वह सऊदी अरब में बैठकर यह सब करेगा, तो वहां पकड़े जाने पर उसे वहां बहुत सख्त सजा मिलेगी। इसीलिए 26 सितंबर को वह मुंबई भाग आया और जोगेश्वरी में अपने एक भाई के यहां रहने लगा। यहां आकर उसने दो-तीन सिम कार्ड खरीदे। एक मोबाइल ऐप बनाया और फिर सऊदी अरब में महिला डॉक्टर को ब्लैकमेलिंग के फोन करने लगा। उसने उनसे दो लाख रुपये का हफ्ता मांगा। ज्यादा दबाव बनाने के लिए उसने महिला डॉक्टर के कुछ रिश्तेदरों को डॉक्टर दंपती के अंतरंग सीन के फोटो भेज दिए। महिला डॉक्टर ने उसकी आवाज पहचान ली।

महिला डॉक्टर को सऊदी अरब के मॉल से पता चल गया था कि आरोपी मुंबई आया हुआ है। इसके बाद डॉक्टर सऊदी अरब से पहले जम्मू कश्मीर गई। वहां से वह पति को लेकर मुंबई आई और फिर दोनों क्राइम ब्रांच में शिकायत करने गए। उसी के बाद हुई जांच में आरोपी रविवार को गिरफ्तार कर लिया गया। इंस्पेक्टर संजय निकुंबे कहते हैं कि मुंबई में आरोपी के भाई का घर है। वह यूपी के पीलीभीत जिले के फरेदिया गांव का मूल निवासी है। ज्यादा कमाने के लिए वह कुछ साल पहले यूपी से सऊदी अरब शिफ्ट हुआ था।
इनपुट: NBT


Like it? Share with your friends!

0
user

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *