0

सऊदी: चाँद रात वाले दिन भी सऊदी के एक शहर पर हुती विद्रोहियों द्वारा मिसाइल दागी गई. इस बात की पुष्टि सऊदी रॉयल एयर डिफेंस फोर्स ने की है. फ़ोर्स के अनुसार गुरुवार को दोपहर के समय यमन के सादा से ईरान समर्थित हुती विद्रोहियों ने राज्य के दक्षिणी भाग में खामिस मुशयती शहर की तरफ से एक बैलिस्टिक मिसाइल दागी.

सऊदी प्रेस एजेंसी ने गठबंधन कर्नल तुर्क अल-मलिकी के आधिकारिक प्रवक्ता का हवाला देते हुए रिपोर्ट में कहा गया की बैलिस्टिक मिसाइल से किसी को कोई नुक्सान नहीं हुआ है क्योकि सऊदी वायु सेना ने वक़्त रहते मिसाइल को रोक दिया और उसे नष्ट कर दिया. गठबंधन के वायु रक्षा बलों ने यमन में सादा शहर से सऊदी क्षेत्रों की ओर हुती विद्रोहियों द्वारा गुरुवार को 15:09 बजे एक बैलिस्टिक मिसाइल दागने का पता लगाया.

कर्नल अल-मलिकी ने कहा कि, मिसाइल, खामिस मुशयती शहर की ओर अग्रसर और नागरिक क्षेत्रों को लक्षित करने के लिए दागी गयी. जिसे सऊदी रॉयल एयर डिफेंस फोर्स द्वारा रोक और नष्ट कर दिया गया. अल्लाह के फ़जलो करम से कोई हताहत नहीं हुआ.

उन्होंने कहा कि ईरानी समर्थित आतंकवादी हुती विद्रोहियों द्वारा इस शत्रुतापूर्ण कार्य में सुरक्षा की धमकी देने के लिए संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद संकल्प 2216 और 2231 की स्पष्ट अवज्ञा में गुणात्मक क्षमताओं के साथ सशस्त्र हुती विद्रोहियों का समर्थन करने में ईरानी शासन की निरंतर भागीदारी शामिल है. उन्होंने यह भी बताया कि क्षेत्रीय और अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा को अस्थिर के मकसद से हुती विद्रोहियों द्वारा इस तरह की नापाक हरकत जा रही है. जबकि बैलिस्टिक मिसाइलों को शहरों और गांवों में दागना अंतरराष्ट्रीय कानून का साफ साफ उल्लंघन करना है लेकिन फिर भी इस पर न तो ईरान सरकार एक्शन ले रही है और न हुती विद्रोहियों पर अंकुश लगाया जा रहा है.


Like it? Share with your friends!

0
Digital Desk

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: