सउदी से फोन पर पत्नी को दिया तलाक, घर आया तो कर लिया यह काम


0

सउदी अरब में रह रहे एक व्यक्ति ने भारत में रहे अपनी को फोन पर तलाक दे दिया. जबकि कुछ दिनों बाद वह देश लौटा और एक ऐसा काम कर लिया जिसके बाद से उसकी नीयत पर सवाल खड़ा होने लगा. सऊदी से भारत लौटा व्यक्ति बिहार के समस्तीपुर जिले का रहने वाला है. जिसकी हरकत के बाद उसकी लाचार पत्नी दर-दर भटक रही है. उसके पति का नाम मो. अफरोज है. जिसने कुछ समय पहले अपनी पत्नी को फोन पर तलाक दे दिया था.

इतना ही नहीं उसने घर आकर दूसरी शादी भी कर ली. वो छह जून को सउदी अरब से लौटा और सात जून को दूसरी लड़की से निकाह रचा लिया. फिलहाल वह अपने घर से फरार है व दूसरी के साथ विदेश भागने के फिराक में लगा हुआ है. जिसे अविलंब भागने से रोकने के लिए महिला ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से पति का वीजा रद कराने की गुहार लगाई है.

पीडि़त महिला शबनम परवीन (22) का ससुराल समस्तीपुर जिले के रोसड़ा थानाक्षेत्र के चांदचौर गांव है. उसके दो बच्चे चार साल के मो. चांद एवं दो वर्ष के मो. अदनान हैं. पति मो. अफरोज विगत पांच वर्षों से सउदी अरब में रहकर चालक का काम करता है. इस बीच दो बार वह अपने घर आया है. शबनम परवीन को घर से निकाले जाने के बाद वह अपने मायके छौड़ाही ओपी थाना क्षेत्र के परोड़ा गांव स्थित अपने मायके में पिता मो. शहीद एवं माता जरीना खातून के साथ रहने को मजबूर है. शबनम परवीन के अनुसार उसकी शादी रीति रिवाज के साथ चांदचौर गांव निवासी मो. बकरीद के पुत्र मो. अफरोज के साथ विगत 23 अप्रैल 2012 को हुई थी. जिसमें शबनम के माता-पिता ने उपहार स्वरूप जेवरात, कपड़े, बर्तन, फर्नीचर समेत ढाई लाख के सामान एवं ढाई लाख सलामी के तौर पर ससुराल वालों को दिए थे. दो दिनों तक ससुराल में रहने के बाद उसे ताना दिया जाने लगा. एक सप्ताह के बाद शबनम के पिता जब बेटी की विदाई कराने पहुंचे तो उनसे दहेज की मांग की जाने लगी.

जिस पर उन्होंने असमर्थता जताई. इसके बाद उसके परिजनों से अभद्र व्यवहार किया गया, हालांकि फिर शबनम को ससुराल में रहने की छूट दी गई, लेकिन ससुराल वालों ने उसे काफी प्रताड़ित करना शुरू कर दिया. एक दिन तो उसपर किरासन तेल छिड़क कर मारने की कोशिश भी की गई. जिसके बाद शबनम अपने ससुराल से मायके चली आई और अभी वो अपने न्याय के लिए लड़ाई लड़ रही हैं.


Like it? Share with your friends!

0
user

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *