0

आजकल के बच्चे मां बाप का कहा न मानकर ऐसे काम करते हैं जिसमें उन्हें सिर्फ और सिर्फ मायूसी ही हाथ लगती है. जबकि कई बार बच्चे मां बाप की आंखों धुल झोंकते हुए किसी गैर के प्यार में पड़कर अपना सबकुछ लुटा देते हैं. ऐसा ही एक मामला फिर सामने आया जो मां पर भरोसा नहीं करने वाले बच्चों के लिए एक बड़ी चेतावनी है. बता दें कि एक किशोरी अपने प्रेमी के साथ घर छोड़कर कर भाग निकली लेकिन उसे प्रेमी ने धोखा देकर देह व्यापार में धकेल दिया. फिर उसने फोन करके खुद अपने पापा जो की साउडी में रहते हैं को यह बताया कि मैं बिहार के बेतिया स्थित रेड लाइट एरिया फंस गई हूँ.

बताया जा रहा है कि पटना के मसौढ़ी थाना क्षेत्र से एक किशोरी का उसका तथाकथित प्रेमी बहला-फुसला कर वर्ष 2015 में भगा ले गया था. इस मामले में किशोरी के पिता अरब देश से वापस आकर मसौढ़ी थाने में भगवानगंज के अभय कुमार के खिलाफ केस दर्ज कराया. अभय उस समय मसौढ़ी के लखीबाग वार्ड नंबर 24 में रहता था. पुलिस इस मामले की तफ्तीश में जुटी थी. इसी बीच किशोरी के परिजनों ने अभय को पकड़ पुलिस के हवाले कर दिया. पुलिसिया पूछताछ में अभय ने किशोरी को भगाने की बात तो स्वीकार की, लेकिन उसका मौजूदा पता नहीं बता सका. तीन साल बीत जाने के बाद बिटिया का कहीं पता नहीं चलने से परिजन थक-हार कर बैठ चुके थे. पुलिस भी इस मामले को एक तरह से ठंडे बस्ते में डाल चुकी थी.

रेड लाइट एरिया से बरामद पीड़िता ने बताया कि घर से भागने के बाद उसे कमरे पर रखने के नाम पर किसी के हवाले सौंप दिया गया. इसके बाद उसे उत्तर प्रदेश के मऊ, बस्ती, बनारस समेत कई शहरों में रखा गया. कुछ-कुछ माह के अंतराल पर उसका शहर बदल दिया जाता था. इसके साथ ही उसका नाम भी बदल दिया जाता था. पुलिस की मानें तो किशोरी से गलत काम कराया जाता था. अमूमन जो भी बाहरी व्यक्ति उससे मिलने जाता, वह उससे घर पर फोन करने की गुहार लगाती थी. कानूनी पचड़े में फंसने के डर से कोई मदद को तैयार नहीं होता था.

इधर, बेतिया में आने के बाद उससे मिलने पहुंचे एक बाहरी युवक से मिन्नत करने पर उसने अपने फोन से किशोरी की बात उसके साउडी में रहने वाले से करायी. इसके बाद मसौढ़ी पुलिस को इसकी जानकारी दी गयी. प्रेमी के साथ घर से भागी किशोरी से गलत काम कराया जा रहा था. बाहरी युवक से मिन्नत कर फोन कर परिवार को जानकारी दी. पटना के मसौढ़ी का मामला, उत्तर प्रदेश के कई शहरों के बाद बेतिया के रेड लाइट एरिया लायी गयी थी. फोन आने के बाद परिवार की सूचना पर सक्रिय हुई पुलिस ने किशोरी को किया बरामद, महिला समेत दो लोग गिरफ्तार किये गये नगर थानाध्यक्ष नित्यानंद चौहान ने बताया कि पटना के मसौढ़ी पुलिस के साथ मंगलवार की सुबह किशोरी के परिजनों के बताये गये घर पर छापेमारी की गयी. यहां के एक कमरे से किशोरी को बरामद किया गया, जिसे पुलिस ने अपने संरक्षण में रखा है.


Like it? Share with your friends!

0
user

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: