0

बिहार के किसी पंप से पांच रुपये सस्ता पेट्रोल और डीजल यहां से खरीदें. साथ ही शुद्धता की गारंटी भी 100 फीसदी है. यह कोई मजाक नहीं है. बिहार के पंपों से पांच रुपये कम मूल्य पर पेट्रोल-डीजल बिक्री किये जाने का बैनर-पोस्टर भी लगाये गये हैं. मालूम हो कि बिहार में 15 जून को पेट्रोल का मूल्य 82 रुपये से ज्यादा प्रति लीटर और डीजल का मूल्य 73 रुपये से ज्यादा प्रति लीटर रहा.

मौजूदा समय में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बेतहाशा वृद्धि हो जाने के बाद उत्तर प्रदेश और नेपाल से सटे बिहार के सीमावर्ती जिलों के लोग बिहार के बजाये उत्तर प्रदेश और नेपाल में पेट्रोल और डीजल खरीदना मुनासिब समझ रहे हैं. इसके पीछे का मुख्य कारण यह है कि बिहार की तुलना में उत्तर प्रदेश में पेट्रोल और डीजल पांच रुपये कम हैं. वहीं, नेपाल की बात की जाये तो करीब 14 रुपये प्रति लीटर कम मूल्य पर पेट्रोल और करीब 15 रुपये प्रति लीटर कम मूल्य पर डीजल मिल रहा है. ऐसे में उत्तर प्रदेश के पेट्रोल पंप बिहार के सीमावर्ती इलाकों के ग्राहकों को लुभाने के लिए बैनर और पोस्टर लगा कर अपने पेट्रोल पंपों की ओर खींचने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ना चाहते हैं. इसका सीधा असर उत्तर प्रदेश और नेपाल से सटे बिहार के सीमावर्ती जिलों के पेट्रोल पंपों के व्यवसाय पर पड़ रहा है. उनकी बिक्री में तेजी से गिरावट दर्ज की जा रही है.

बिहार के पश्चिम चंपारण, पूर्वी चंपारण, सीतामढ़ी, मधुबनी, सुपौल, अररिया, किशनगंज, गोपालगंज, सीवान, बक्सर और कैमूर जिलों के सीमावर्ती इलाकों के लोग पेट्रोल और डीजल लेने के लिए बिहार के बजाये उत्तर प्रदेश और नेपाल का रुख कर रहे हैं. एक ओर जहां पश्चिम चंपारण, गोपालगंज, सीवान, बक्सर और कैमूर के लोग पेट्रोल और डीजल लेने के लिए उत्तर प्रदेश की ओर रुख कर रहे हैं, वहीं पूर्वी चंपारण, सीतामढ़ी, मधुबनी, सुपौल, अररिया और किशनगंज के लोग नेपाल की ओर रुख कर रहे हैं.

बिहार की सबसे व्यस्तम सड़क जीटी रोड यानी एनएच-2 कैमूर के होकर गुजरती है. यहां बिहार में आनेवाली गाड़ियां उत्तर प्रदेश से ही टंकी में डीजल पूरा भर कर राज्य में प्रवेश करती हैं. वहीं, बिहार से उत्तर प्रदेश जानेवाली गाड़ियां उत्तर प्रदेश से ही पेट्रोल और डीजल लेकर वापस लौटती हैं. एक ट्रक एक बार में 100 से 200 लीटर डीजल भरवाते हैं. ऐसे में बिहार के बजाये उत्तर प्रदेश में डीजल भरवाने पर करीब का प्रति लीटर कीमत पांच रुपये कम लागत लगने से 500 से 1000 रुपये का लाभ होता है. कैमूर जिले की तरह बक्सर, सीवान, गोपालगंज, पश्चिम चंपारण के अधिकतर लोग व्यवसायिक, चिकित्सा, शिक्षा के लिए उत्तर प्रदेश से जुड़े हुए हैं. ऐसे में इनका उत्तर प्रदेश अक्सर आना-जाना होता है. मौजूदा समय में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में पांच रुपये अंतर होने के कारण यहां के लोग जब भी किसी काम से उत्तर प्रदेश जा रहे हैं, तो वहां से बिहार आने के दौरान तेल की टंकी फुल करवाना बेहतर समझ रहे हैं.

बिहार और उत्तर प्रदेश में डीजल और पेट्रोल में पांच रुपये का अंतर होने का नतीजा है कि बड़े वाहनों के साथ-साथ छोटे वाहन भी बिहार में डीजल और पेट्रोल न लेकर उत्तर प्रदेश का रुख कर रहे हैं. इससे एक तरफ बिहार के पेट्रोल पंपों पर जहां सन्नाटा पसरा रहता है. वहीं, उत्तर प्रदेश के पेट्रोल पंपों पर पेट्रोल और डीजल लेनेवालों की लंबी कतारें लग रही हैं. इस संबंध में बिहार के सीमावर्ती वाहनों चालकों का कहना है कि बिहार के लोगों के साथ सरकार भेदभाव कर रही है. इसका नतीजा है कि बिहारवासियों को उत्तर प्रदेश में पेट्रोल-डीजल लेना मजबूरी बन गया है.

उत्तर प्रदेश में डीजल और पेट्रोल की कीमतें बिहार के सीमावर्ती जिलों से कम मूल्य होने की वजह से सीमावर्ती गांवों के कई लोगों ने पेट्रोल-डीजल का गोरखधंधा भी शुरू कर दिया है. कई अवैध कारोबारी उत्तर प्रदेश से डीजल और पेट्रोल लाकर बिहार में निर्धारित दरों से कम दामों पर इसे बेच रहे हैं.
कैमूर में पेट्रोल का मूल्य जहां 83.00 रुपये प्रति लीटर और डीजल का मूल्य 73.55 रुपये प्रति लीटर है. वहीं, कैमूर के लोगों को उत्तर प्रदेश में पेट्रोल 75.20 रुपये और डीजल 67.94 रुपये प्रति लीटर उपब्ध हो जा रहा है. गोपालगंज के लोगों को पेट्रोल 82.87 प्रति लीटर और डीजल 73.50 रुपये खरीदना पड़ रहा है, वहीं उत्तर प्रदेश से उन्हें पेट्रोल 76.87 रुपये प्रति लीटर और डीजल 67.50 रुपये प्रति लीटर उपब्ध हो जा रहा है. इसके अलावा सीवान में प्रति लीटर पेट्रोल का मूल्य 82.66 रुपये और डीजल 73.30 रुपये प्रति लीटर डीजल है, वहीं उन्हें उत्तर प्रदेश के सीमावर्ती सलेमपुर में पेट्रोल 77.34 रुपये और डीजल 68.16 रुपये मिल जा रहा है. सीमावर्ती जिले बक्सर में भी यही हाल है. सिर्फ गंगा पार करना है. शहर से उत्तर प्रदेश की दूरी पांच किलोमीटर से भी कम है. ऐसे में जिला मुख्यालय समेत आसपास के इलाके के लोग भी पेट्रोल और डीजल के लिए उत्तर प्रदेश की ओर रुख कर रहे हैं. बक्सर में प्रति लीटर पेट्रोल का मूल्य 82.55 रुपये और प्रति लीटर डीजल का मूल्य 73.20 रुपये है. वहीं, उत्तर प्रदेश के भरौली में 76.53 रुपये प्रति लीटर पेट्रोल और 68.15 रुपये प्रति लीटर डीजल मिलने के कारण लोग बक्सर में पेट्रोल और डीजल लेना मुनासिब नहीं समझ रहे हैं. पश्चिम चंपारण की बात करें, तो यहां के लोगों को दोहरा मुनाफा हो रहा है. नेपाल की ओर रुख करने पर पेट्रोल और डीजल पर करीब 14-15 रुपये प्रति लीटर का फायदा हो रहा है, तो उत्तर प्रदेश का रुख करने पर करीब पांच रुपये का अंतर पड़ रहा है. ऐसे में सीमावर्ती इलाकों के लोग जिस ओर जाते हैं, वहां से पेट्रोल और डीजल लेकर ही बिहार में प्रवेश करते हैं. बेतिया में पेट्रोल और डीजल का मूल्य क्रमश: 82.87 और 73.83 रुपये प्रति लीटर है, वहीं उत्तर प्रदेश से उन्हें 77.85 रुपये प्रति लीटर पेट्रोल और 73.83 रुपये प्रति लीटर डीजल मिल जा रहा है. जबकि, नेपाल में तो पेट्रोल 68.36 रुपये प्रति लीटर और 58.73 रुपये प्रति लीटर डीजल मिल रहा है.

यही हाल बिहार के अन्य सीमावर्ती जिलों का है. अररिया जिले के सीमावर्ती इलाके के लोग जहां नेपाल के बिराटनगर की ओर रुख कर रहे हैं, वहीं, सुपौल के लोग भी नेपाल के सीमावर्ती इलाकों का रुख कर रहे हैं. मधुबनी जिले के लौकाहा, लदनिया, जयनगर, हरलाखी जैसे सीमावर्ती इलाकों के लोगों के लिए भी बिहार में पेट्रोल और डीजल लेना महंगा साबित हो रहा है. यही हाल सीतमढ़ी और पूर्वी चंपारण का भी है. www.mypetrolprice.com के मुताबिक, 15 जून को अररिया में पेट्रोल का मूल्य प्रति लीटर 82.96 रुपये और डीजल का प्रति लीटर मूल्य 73.57 है. जबकि, सुपौल में पेट्रोल और डीजल का प्रति लीटर मूल्य 83.10 और 73.69 रुपये रहा. मधुबनी में पेट्रोल का 82.37 और डीजल का 73.01 रुपये प्रति लीटर मूल्य रहा. सीतामढ़ी में 82.54 रुपये प्रति लीटर पेट्रोल और डीजल 73.17 रुपये प्रति लीटर मूल्य शुक्रवार को रहा. वहीं, पूर्वी चंपारण में 82.13 रुपये प्रति लीटर पेट्रोल और 72.82 रुपये प्रति लीटर डीजल का मूल्य 15 जून को रहा.
इनपुट: PKM


Like it? Share with your friends!

0
Digital Desk

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: