भागलपुर में मौतों से पसरा मातम, एक की लाश कचरे में फँसी मिली तो दूसरा की सीढ़ी घाट में


शहरी क्षेत्र में 24 घंटे के दो अलग-अलग डूबने की घटनाओं में दो की मौत हो गई। इनमें एक आठ वर्षीय छात्र और दूसरा 44 साल का रिक्शा चालक है। एक घटना सीढ़ी घाट की तो दूसरी घटना शाहजंगी तालाब की है।

 

मंगलवार एसएम काॅलेज के समीप स्थित सीढ़ी घाट पर गंगा स्नान करने गए भीखनपुर गुमटी नंबर एक के निवासी ठेला चालक पारी मंडल के अाठ साल के पुत्र सत्यम कुमार की डूबने से माैत हाे गई है। उसका शव एसडीअारएफ ने बुधवार काे बरामद किया। शव एक पिलर में फंस गया था। जाेगसर पुलिस ने बालक के शव का पाेस्टमार्टम करवाया है। पिता ने बताया कि उनका बेटा मुंदीचक स्थित स्कूल में चाैथी कक्षा का छात्र था। घर पर वह विश्वकर्मा पूजा काे लेकर ठेले की पूजा कर रहा था। इसी दाैरान सुबह छह बजे बेटा माेहल्ले के दाेस्त दस साल के साेहन के साथ सीढ़ी घाट नहाने चला गया। वह तैरना नहीं जानता था, लेकिन गहरे पानी में जाकर नहाने लगा, तभी असंतुलित होकर वह डूब गया। दाेपहर तक जब बेटा नहीं लौटा तो खाेजबीन शुरू की गई। नहाकर लाैटे उसके दाेस्ते साेहन ने घटना की जानकारी उन्हें दोपहर में दी। डर की वजह से साेहन ने सुबह घटना की जानकारी नहीं दी। उसकी निशानदेही पर सीढ़ी घाट पर परिजन पहुंचे तो वहां सत्यम का चप्पल मिला। शाम में बरारी पुलिस काे सूचना दी। इसके बाद एसडीअारएफ ने बुधवार सुबह नदी से उसके बेटे की के शव को बरामद किया।

 

 

दूसरी घटना हबीबपुर थाना क्षेत्र के शाहजंगी तालाब में घटी। मंगलवार की शाम पांच बजे हर दिन की तरह माेहल्ले का 44 साल का माे. रहमत खां रिक्शा चलाने के बाद नहाने तालाब चला गया, लेकिन अधिक पानी में जाने के कारण वह डूब गया। परिजनाें ने बताया कि वह तैरना नहीं जानता था पर उसे तालाब में नहाने की अादत थी। वह अपने पीछे वह पांच बेटी व दाे बेटे काे छाेड़ गया। पत्नी नासरीन का राेराे कर बुरा हाल है। शाम तक जब रहमत घर नहीं लाैटा ताे परिजनाें ने उसे ढूंंढना शुरू कर दिया। बुधवार की सुबह माेहल्ले के कई युवकाें ने उसकी तालाब में खाेजबीन की ताे उसकी लाश कचरे में फंसी मिली। उसकी एक बेटी विवाहित है। घटना के बाद परिजन बदहवास हैं।


Like it? Share with your friends!

-1

Comments 0

Your email address will not be published. Required fields are marked *

भागलपुर में मौतों से पसरा मातम, एक की लाश कचरे में फँसी मिली तो दूसरा की सीढ़ी घाट में

log in

Become a part of our community!

reset password

Back to
log in