भागलपुर में इस गांव की प्रेरणा बड़ी ये बेटियां, जानकर आपको भी होगा गर्व


भागलपुर से लगभग 28 किलोमीटर उत्तर में स्थित सोनवर्षा गांव का एक खेत ही लड़कियों का अघोषित स्पोर्ट्स कॉलेज है। बेहद गरीबी से मुकाबला करतीं और सरकारी सहायता का इंतजार करतीं जिले के बिहपुर प्रखंड के सोनवर्षा गांव की लड़कियां वॉलीबॉल की राष्ट्रीय स्पर्धाओं में अपना खेल दिखा रही हैं। गांव के हर घर से वालीबॉल खिलाड़ी निकल रहीं हैं। पूजा, मनीषा, अर्चना और बिहपुर की कंचन माला के बाद खुशी और प्रेरणा गांव वालों की बच्चियों के लिए प्रेरणास्रोत बनीं हैं। गांव के ही कुछ लड़के लड़कियों को प्रशिक्षण दे रहे हैं। वे ही उनके कोच, गाइड और मैनेजर हैं। सोनवर्षा गांव वॉलीबॉल खेल की नर्सरी के नाम से भी विख्यात है।

सोनवर्षा निवासी सह पूर्व राष्ट्रीय वॉलीबॉल खिलाड़ी नीलेश कुमार की बेटी खुशी और प्रेरणा राष्ट्रीय स्तर पर अपना जलवा बिखेर रही है। नीलेश खुद 2006 में राष्ट्रीय सीनियर, 1998 में राष्टीय यूथ, 1994 में राष्ट्रीय जूनियर, 1991 में राष्ट्रीय सब जूनियर के अलावा रांची विवि से चार बार खेल चुके हैं। बावजूद इसके इन्हें एक सरकारी नौकरी तक नहीं मिली। नीलेश फिलहाल डान बास्को स्कूल, भागलपुर में शारीरिक शिक्षक के रूप में कार्यरत हैं। नीलेष ने बताया कि जिस वॉलीबॉल के लिए उन्होंने अपना पूरा जीवन समर्पित कर दिया, लेकिन वह मुकाम हासिल नहीं कर सका। मैंने ठान लिया कि न सिर्फ अपनी दोनो बेटियों खुशी और प्रेरणा बल्कि गांव की अन्य बेटियों को उस मुकाम पर पहुंचाना है।

इस दिशा में नीलेश के प्रयास ने रंग दिखाना शुरू कर दिया। अभी नीलेश की दोनों बेटियां खुशी बिहार राज्य बालिका सबजूनियर टीम की कप्तान है। जिसकी कप्तानी में राज्य टीम ने 24 से 30 जनवरी तक पांडीचेरी में आयोजित राष्ट्रीय सब जूनियर प्रतियोगिता में भाग लिया। वहीं प्रेरणा की कप्तानी में मिनी बिहार बालिका टीम ने 20 से 24 नवंबर तक मध्यप्रदेश के मुरैणा में आयोजित 25वें राष्ट्रीय मिनी वॉलीबॉल प्रतियोगिता में भाग लिया। वहीं वर्तमान में प्रेरणा चेन्नई में चल रहे खेलो इंडिया के तहत अंडर 14 वॉलीबॉल प्रतियोगिता में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा रही हैं। पिता ही नहीं भाई अंश सहित गांव वालों को खुशी और प्रेरणा की सफलता और प्रतिभा पर गर्व है। वहीं खुशी और प्रेरणा का कहना है कि मेरे पिता ही मेरे गुरु हैं। दोनों बहनें अपने पिता का सपना एक दिन पूरा करके दिखाएंगे।
इनपुट: JMB

Comments 0

Your email address will not be published. Required fields are marked *

भागलपुर में इस गांव की प्रेरणा बड़ी ये बेटियां, जानकर आपको भी होगा गर्व

log in

reset password

Back to
log in
error: Content is protected !!