बेटी तेरी इस हाल का कौन देगा हिसाब, काटा तेरे शरीर को गया और खून में हमारे है उबाल, कहां है बिहार की सुशासन सरकार

1 min


0

बिहार में हो रही वारदातों पर सत्तापक्ष के नेता कुछ कहने को तैयार नहीं है, क्योंकि उनकी नजर में क्राइम बहुत कम गया है. जबकि विपक्ष भी कुछ दिनों से अपनी सियासी रोटने के फिराक में है. इसी बीच बिहार में फिर एक दर्दनाक घटना घटी है. जिसने लोगों को चिंता में डाल दिया है. बता दें कि अंजली कुमारी को किसी ने अगवा करके उसके साथ बहुत ही हुई बुरा सलूक किया. अपराधियों ने अजंली का अपहरण कर उसके हाथ-पैर बांधकर उसके शरीर को ब्लेड से कई जगह काटा. इतना ही नहीं उसके गले को भी काट दिया गया. जिसके बाद वो काफी देर तक झटपटाती रही. जालिमों ने उसे इस हाल में सड़क किनारे फेंक दिया.

उसके किसी ग्रामीण की नजर उस पर पड़ी तो उसे अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया. यहां से उसे बेहतर इलाज के लिए बुधवार को पीएमसीएच भेजा गया. पीएमसीएच के आईसीयू वार्ड में भर्ती अंजली की हालत बहुत ही गंभीर है. अंजली कुमारी बिहार के गया जिले के डोभी थाना अन्तर्गत करमौनी-घंघवा गांव की रहने वाली है जिसकी कुछ ही दिनों में शादी होने वाली थी.

छात्रा के भाई बलराम पासवान ने बताया कि 20 अप्रैल को उसकी बहन की शादी होने वाली थी. सोमवार को वह शादी की खरीदारी के लिए घर से निकली थी, लेकिन घर नहीं पहुंचीं। किसी ने उसे अगवा किया और ब्लेड से काटकर गंभीर रूप से जख्मी कर दिया. मंगलवार को वह औरंगाबाद थाना क्षेत्र के मदनपुर इलाके में जख्मी हालत में मिली. गांव के लोगों ने उसे हॉस्पिटल पहुंचाया. उसके शरीर पर ब्लेड से कई जगह वार किया गया था. गले पर भी ब्लेड से मारा गया था. उसके गले में ब्लेड फंसा हुया था. उसके हाथ-पैर पर रस्सी से बाँधने के निशान थे.

इसके अलावा यह कथित तौर पर अंजली का एक वीडियो वायरल होने की चर्चा है. जिसमें वो जख्मी हालत में तड़पती हुई दिखाई दे रही है. इस घटना के बाद उसके परिवारों वालों और आसपास के लोगों का कानून व्यवस्था और नीतीश सरकार पर भरोसा उठ गया है. सबको का यह कहना है कि बिहार में अब कानून नाम की कोई चीज नहीं है. इसलिए अपराधी बेखौफ हैं और आम लोग डरे हुए.


Like it? Share with your friends!

0
Digital Desk

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *