बिहार में मौसम को लेकर दो अप्रैल तक अलर्ट, रहिये सतर्क, जताई जा रही है यह संभावना

1 min


0

राजधानी समेत राज्य भर में शुक्रवार को तेज आंधी और ओलावृष्टि के साथ हुई बारिश जानलेवा साबित हुई। गोपालगंज में पेड़ गिरने से दो लोगों की मौत हो गई जबकि 8 घायल हो गए। दरभंगा में 250 ग्राम तक के ओले गिरने की सूचना है। ओलावृष्टि से फसलों खासकर आम को काफी नुकसान पहुंचा। कई घर भी क्षतिग्रस्त हो गए। राजधानी में रात करीब साढ़े आठ बजे तेज हवा के साथ बारिश हुई। करीब 10 मिनट तक ओले गिरते रहे। पारा गुरुवार के मुकाबले छह डिग्री नीचे गिर गया। इससे लोगों को गर्मी से राहत मिली। मौसम विभाग ने 2 अप्रैल तक पूरे बिहार में बारिश व ओला गिरने की संभावना का अलर्ट जारी किया है।

शुक्रवार की सुबह आंधी व बारिश ने ग्रामीण इलाकों में आफत बनकर आई। शहरी जनजीवन पर इसका उतना प्रभाव नहीं पड़ा, लेकिन ग्रामीण इलाकों में बारिश के साथ बड़े-बड़े ओले पड़ने से फसलों को काफी नुकसान पहुंचा है। गोपालगंज में आंधी की चपेट में आकर दो की मौत हो गई वहीं कई जगह घरों भी आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त हो गई हैं जबकि कुछ लोग चोटिल भी हो गए। एक घंटे की झमाझम बारिश व फिर उसके बाद ओला पड़ने से कई प्रखंडों में लगी फसल के साथ आम पर इसका सीधा असर पड़ा।

दरभगा जिलें के अधिकांश पंचायतों में ढाई सौ ग्राम से लेकर पांच सौ ग्राम तक के ओले गिरे। एक दर्जन से अधिक किसान,मजदूर व पशुपालक खेतों में काम करने के दौरान इसकी चपेट में आकर जख्मी हो गए। सहसपुर के मनामा के ललन सिंह पशु को घर लाने के दौरान काफी गंभीर रूप से जख्मी हो गए। कई खपरैल व अन्य मकानों के छप्पर क्षतिग्रस्त हो गए। घायलों को इलाज के लिए जाले रेफरल अस्पताल में पहुंचाया गया।

बेतिया : तैयार फसलों को जल्द काटने की सलाह
जिले के कई प्रखंडों में शुक्रवार की सुबह ओलावृष्टि हुई। इसको देखते हुए जिला कृषि विभाग ने लाखों किसानों को शीघ्र ही खेतों से पक चुकी फसलों को काट लेने की नसीहत दी है। डीएओ ने हुए बताया कि अलग- अलग प्रखंडों में हुई ओलावृष्टि से रबी की फसलों पर इस बार आंशिक प्रभाव पड़ा है लेकिन उन्होंने मौसम में हो रहे परिवर्तन के मद्देनजर जिले के किसानों को सावधानी बरतने का निर्देश जारी कर दिया है।

किशनगंज : सड़कों पर भरा पानी, जमकर ओले पड़े
जिले में आंधी, बारिश के साथ जमकर ओले पड़े हैं। शुक्रवार की सुबह से ही बादल छाए थे। सवा नौ बजे से तेज हवा चलने लगी। उसके बाद बारिश के साथ ही ओले पड़ने लगे। पंद्रह मिनट तक ओले गिरे। वहीं शुक्रवार को हुई हल्की बारिश ने नगर परिषद किशनगंज के व्यवस्था की पोल खोल दी। कई जगहों पर सड़कों पर बारिश का पानी जमा हो गया, जिससे वाहनों को निकलने में दिक्कत हुई।

गोपालगंज : तेज आंधी से कई पेड़ गिरे,दो की मौत
शुक्रवार की शाम एकाएक मौसम का मिजाज पूरी तरह बदल गया। धूल भरी तेज आंधी चलने लगी। तेज रोशनी के साथ आसमान में बिजली चमकने लगी। बादल की तेज गड़गड़ाहट के बीच बारिश की छिंटा पड़ने लगीं। जिससे कई जगहों पर विद्युत के खंभे ध्वस्त हो गए तथा विद्युत आपूर्ति पूरी तरह बाधित हो गई। आंधी की चपेट में आकर कई स्थानों पर पेड़ भी धरासाई हो गए हैं। जिससे दो लोगों की मौत हो गई। कुछ जगहों पर आवागमन भी बाधित रहा।
इनपुट:DBC


Like it? Share with your friends!

0
admin

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *