बिहार में दो पत्रकारों की कुचलकर हत्‍या पर बवाल, पुलिस मुख्‍यालय ने दिए जांच के आदेश

1 min


0

गड़हनी थाना क्षेत्र के नहसी पुल के समीप एक अनियंत्रित स्कार्पियों की टक्कर से एक दो पत्रकारों की मौके पर ही मौत हो गई। घटना को हत्‍या बताते हुए स्‍थानीय लोग सोमवार की सुबह से सड़क पर हैं। लोगों ने आरोपित को गिरफ़्तार की मांग को लेकर आरा-सासाराम मुख्य पथ जाम कर दिया है। आरोप है कि गड़हनी के एक पूर्व मुखिया के परिजनों ने इस हत्याकांड को अंजाम दिया है। इस बीच घटना को लेकर पुलिस मुख्‍यालय गंभीर हो गया है। घटना की जांच को लेकर डीएसपी के नेतृत्‍व में एसआइटी का गठन कर दिया गया है।

मिली जानकारी के अनुसार गड़हनी थाना क्षेत्र के बगवां गांव निवासी खजांची सिंह के पुत्र नवीन निश्चल एक हिंदी दैनिक के लिए काम करते थे। वे बाइक पर गांव के ही एक पत्रिका के लिए काम करने वाले पत्रकार विजय सिंह के साथ घर लौट रहे थे। इसी दौरान उन्‍हें तेज रफ्तार स्‍कॉर्पियो ने ठोकर मार दी। दोनों की मौके पर ही मौत हो गई। स्‍कॉर्पियो पूर्व मुखिया हरसू मियां की है, जिनका मृतक पत्रकार नवीन निश्‍चल से पूर्व की अदावत थी।

घटना की जानकारी मिलते ही वहां स्थानीय लोगों की भारी भीड़ जुट गई, जिसका फायदा उठाकर स्कार्पियों का चालक गाड़ी छोड़कर फरार हो गया। गुस्साए ग्रामीणों ने स्कार्पियों को आग के हवाले कर दिया। लोगों ने शव के साथ सड़क जाम कर दिया। सड़क जाम कर रहे ग्रामीणों ने पुलिस-प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। देर रात माहौल शांत हुआ, लेकिन सोमवार की सुबह से लोग फिर सड़क पर उतर आए हैं। खबर लिखे जाने तक सड़क जाम जारी है।

बताया जाता है कि मृतक नवीन निश्चल का आरोपित पूर्व मुखिया से पहले से तनाव था। उसने हत्‍या की धमकी भी दी थी। घटना में नामजद पूर्व मुखिया हरसू मियां व उसके पुत्र की गिरफ्तारी को लेकर लोग अड़े हुए हैं। इस बीच पुलिस मुख्‍यालय ने मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं।
INPUT: JMB


Like it? Share with your friends!

0
Digital Desk

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *