0
0 0
Read Time:2 Minute, 54 Second

देश के कई हिस्से में आये आंधी तूफान के बाद बिहार में भी मौसम विभाग ने अलर्ट जारी करते हुए कहा है कि आने वाले दो दिनों में बिहार के कई हिस्सों में तूफान का खतरा है। हालांकि, तूफान से बचने के लिए आपको उसके उपाय भी जान लेना जरूरी है।

मौसम विभाग ने कई राज्यों में तूफान की चेतावनी को बरकरार रखा है, इसके मद्देनजर सभी राज्यों में आपदा प्रबंधन केन्द्रों से हर स्थिति से निपटने के लिये जरूरी इंतजाम करने को कहा गया है। पूर्वोत्तर भारत में असम, मेघालय, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा और साथ ही बिहार को भी अलर्ट पर रखा गया हैय़

वो 9 उपाय इस प्रकार है जो तेज आंधी-तूफान से आपको बचा सकते हैं:
-अगर आपके पास मास्क है या फिर नहीं है तो खरीद लें और इनका उपयोग तूफान आने के समय करें। ये मास्क आपको धूल से बचाता है।
-अगर आपके पास मास्क नहीं है और धूल भरे तूफान में फंस गए हैं तो सबसे पहले शरीर के उस हिस्से को बचाइए जो सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है।
-आंख, नाक, कान और मुंह को ढक लें, अपने चेहरे को ढकने के लिए आपके पास जो भी कपड़ा -मौजूद है उसका इस्तेमाल करें और धूल को सांस के साथ अंदर लेने से बचें।
-कहीं भी छुपने की जगह खोजें और अगर छुपने की जगह न मिले तो जिधर से आंधी आ रही है उसी दिशा में झुककर खड़े हो जाएं।
-अगर तूफान आने के वक्त आप गाड़ी चला रहे हैं, तो एक सुरक्षित जगह पर रुक जाएं और तूफान के शांत होने या निकल जाने की प्रतीक्षा करें।
-किसी मजबूत दीवार के पीछे छुप जाएं, उच्च तीव्रता से चलने वाली हवाओं में इतनी ताकत होती है कि वो भारी वस्तुओं को भी नुकसान पहुंच सकता है।
-अगर आप अस्थमा यानी दमा के मरीज हैं, या फिर आपको धूल से एलर्जी है, तो अपने इनहेलर और दवाओं के बगैर कभी भी बाहर न जाएं।
-अगर धूल आपकी आंखों में चली गई है तो उन्हें रगड़ें नहीं। इससे आपकी आंखों को और अधिक नुकसान पहुंच सकता है.
-पानी हमेशा पीते रहें, और जहां भी जाएं साथ में पानी जरुर रखें। अगर तूफान में फंस गए तो पानी बहुत जरुरी हो जाता है।
इनपुट:eenaduindia

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Like it? Share with your friends!

0
Digital Desk

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *