बड़ी ख़बर: देश में बड़ा हादसा चार मंजिला होटल गिरा, 10 लोगों की मौत

1 min


0

इंदौर के सरवटे बस स्टैंड के पास एक होटल की चार मंजिला इमारत अचानक ढह गई। इस इमारत में होटल और लॉज संचालित हो रही थी। खबरों के मुताबिक यह बिल्डिंग 50 साल पुरानी थी। इंदौर के कलेक्‍टर ने इस पूरे हादसे में 10 लोगों के मौत की पुष्टि की है। सात घायलों को एमवाय अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है।
 
जानकारी के मुताबिक, छोटी ग्वालटोली थाना क्षेत्र में सरवटे बस स्टैंड के पास एमएस होटल नामक एक चार मंजिला इमारत गिर गई। यह हादसा 9 बजकर 17 मिनट का बताया जा रहा है। एक कार के टकराने से यह जर्जर इमारत गिर गई। घटना के 20 मिनट बाद निगम का अमला मौके पर पहुंचा। बिल्डिंग के गिरते ही अफरातफरी मच गई, हर कोई मौके पर पहुंचने लगा और मलबा हटाने में लग गए। कलेक्टर निशांत वरवडे ने कहा कि मेरी जानकारी में इस बिल्डिंग के बारे में कोई शिकायत नहीं थी।
 
 
घटना की जानकारी मिलते ही इंदौर की महापौर मालिनी गौड़ ने सभी अधिकारियों को मौके पर पहुंचने के निर्देश दिए। बचाव कार्य के साथ ही गौड़ ने सभी आवश्यक व्यवस्था जुटाने के साथ ही घायलों के लिए हर प्रकार की सहायता देने के आदेश दिए। महापौर मालिनी गौड़ के निर्देश पर निगम की टीम भी मौके पर पहुंची।
 
 
एमवाय के अधीक्षक वीएस पाल ने बताया कि फिलहाल हादसे में दबे सात लोगों को अस्पताल लाया गया, गंभीर रूप से घायल लोगों का इलाज चल रहा है।
 
 
कार टकराने से हुआ हादसा : टीवी चैनल खबरों के मुताबिक, यह हादसा बिल्डिंग से कार के टकराने से हुआ। बिल्डिंग के जर्जर होने का अनुमान इसी से लगाया जा सकता है कि एक कार के टकराने से बिल्डिंग गिर गई।
 
 
लोकसभा अध्यक्ष ने जताया दु:ख : लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने सरवटे बस स्टैंड के पास एक होटल की बिल्डिंग गिरने की घटना पर गहरा दु:ख प्रकट किया है। उन्होंने कहा कि प्रशासन पूरे अमले को लगाकर सुनिश्चित करे कि कोई भी व्यक्ति मलबे में न रह जाए। घायलों के उपचार की व्यवस्था करने के लिए भी उन्होंने प्रशासन को निर्देशित किया। दुर्घटना के कारणों की जांच करने के लिए भी उन्होंने प्रशासन से आग्रह किया।
 
 
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने जताया दुख : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने इस घटना पर दु:ख जताया। उन्होंने ट्‍वीट कर कहा कि इंदौर के सरवटे बस स्टैंड के पास हुआ हादसा अत्यंत दुखद है। बचाव कार्य सहित पूरी स्थिति पर हमारी नजर है। ईश्वर से प्रार्थना है कि सभी सकुशल हों और घायल शीघ्र स्वस्थ हों।
 
 
क्या बोलीं महापौर : महापौर का कहना है कि यह दर्दनाक घटना है। बचाव कार्य युद्धस्तर पर चल रहा है। अभी मलबे में कितने लोग दबे हैं, इसकी जानकारी नहीं है। पूरे नगर निगम का अमला इसमें लगा हुआ है। मलबे में दबे होने की संख्या सामने नहीं आई है।


Like it? Share with your friends!

0
Digital Desk

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: