Sunday, September 26

फिर से छह भारतीय कामगारों का विदेश में अपहरण DM ने भेजी विभाग को मामले की रिपोर्ट

बिजली कंपनी में मजदूरी करने अफगानिस्तान गए बिहार के मधेपुरा जिले के लौआलगान के मंटू सहित छह मजदूरों का वहां अपहरण कर लिया गया है। मंटू के अलावा झारखंड सहित अन्य जगहों के लोग उसमें शामिल हैं। अपहरण के मामले में डीएम ने रिपोर्ट गृह व श्रम विभाग को भेज दी है। साथ ही सही पूरी घटनाक्रम की भी जानकारी दी है। जल्द ही इस दिशा में साकारात्मक पहल कर बिजली मजदूर को रिहा कराए जाने की उम्मीद है।

मालूम हो कि अफगानिस्तान में फिरौती के लिए आतंकवादियों ने मंटू सिंह का अपहरण कर लिया है। मंटू सहित कई अन्‍य मजदूर लगभग पांच महीने पूर्व एक बिजली कंपनी में मजदूरी करने के लिए भूटान गया था। वहां से उसी कम्पनी के माध्यम से मंटू सहित छह भारतीय को अफगानिस्तान काम के लिए भेजा गया। वहीं आतंकवादियों ने उसका अपहरण कर लिया है। इधर चौसा थानाध्यक्ष सुमन कुमार सिंह ने अपहृत मंटू के निजी आवास लौआलगान पहुंच कर उसके परिजनों की हालत की रिपोर्ट को डीएम और एसपी को भेज दिया है।

गम में है मंटू के परिजन
बिजली मिस्त्री मंटू सिंह के परिजन पिछले 23 दिनों से काफी सदमे में हैं। अनहोनी की आशंका से उसके घर में चूल्हा जलना बंद हो गया है। मंटू की पत्‍नी टायटस देवी अपने 15 वर्षीय पुत्र सुरज कुमार व सात वर्षीय पुत्री सपना कुमारी के साथ लौआलगान पश्चमी पंचायत के वार्ड 11 में रह रही है। मजदूरी करने के दौरान मंटू के अपहरण की खबर से घर का माहौल गमगीन है।

मंटू की पत्नी टायटस देवी ने बताया कि भूटान की केईसी बिजली कंपनी में वे पिछले दस सालों से काम रहे हैं। बिजली कंपनी का मालिक मंटू को मजदूरी के लिए पहले भूटान और फिर अफगानिस्तान लेकर चला गया। अफगानिस्तान जाने के बाद उसकी मंटू से प्रत्येक दिन मोबाइल पर बात होती थी। बीते छह मई की दोपहर भी मंटू अपने पांच-छह साथियों के साथ साइट पर काम कर रहे थे। उस समय दोनों की बात हुई थी। उसी दिन बिजली कंपनी के अधिकारियों ने फिरौती के लिए आतंकवादियों द्वारा मंटू के अपहरण की जानकरी दी।

सलामती के लिए ग्रामीण कर रहे दुआ
अफगानिस्तान में मंटू को आतंकवादियों के हाथों अपहरण किए जाने के बाद मंगलवार को स्थानीय पंचायत भवन में ग्रामीणों की एक महत्वपूर्ण बैठक की गई। बैठक में स्थानीय जनप्रतिनिधियों एवं ग्रामीण बुद्धिजीवियों ने हिसा लिया। बैठक में लोगों ने कहा कि उसकी सही सलामत घर वापसी के लिए दुआ मांगी। साथ ही मंत्री व अधिकारियों के सामने रहाई की मांग रखने की बात कही।अफगानिस्तान में अपहृत मंटू को लेकर उन्होंने रिपोर्ट गृह व श्रम विभाग को भेज दी है। साथ ही पूरी घटनाक्रम की भी जानकारी दी है।
इनपुट: JMB

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: