0

एक बीमार आदमी अस्पताल में इस उम्मीद से जाता है कि वहां उसका जख्म भर जायेगा. एक बीमार व्यक्ति डॉक्टर तरह ही वहां काम करने के वाले लोगों को भी करीब करीब भगवान भी समझता है. वह सभी कर्मियों के सम्मान के नजर ही देखता है, लेकिन बिहार के एक अस्तपाल ऐसा भी जिसने एक मरीज का इलाज करने के बजाय उसे और भी गहरा जख्म दे दिया है. वहां का एक कर्मी हवस का दरिंदा निकला जिसने एक चार पहले मां बनी एक महिला को अस्मत लुटने की कोशिश की है.

वह शख्स सदर थाना क्षेत्र के एक निजी नर्सिंग होम का कंपाउंडर है, जिसनें ने वहां भर्ती उस नई मां दुष्कर्म का प्रयास किया. वह शराब के नशे में धुत था. पीड़िता द्वारा विरोध जताने और चिल्लाने के बाद मौके पर पहुंची आसपास की महिलाओं ने युवक को पकड़ कर अपना जमकर पीटा. वहीं, दूसरी ओर सूचना मिलने पर मरीज के परिजनों ने नर्सिंग होम में जम कर हंगामा किया. सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस जांच में जुटी है.

बताया जा रहा है कि शहर के एक नर्सिंग होम में एक गर्भवती महिला ने चार दिन पहले ऑपरेशन से एक बच्चे को जन्म दिया था. पीड़िता की हालात नाजुक होने के कारण वह नर्सिंग होम में इलाज चल रहा था. इसी बीच, नर्सिंग होम में एनआईसीयू के कंपाउंडर रंजीत कुमार ने प्रसूता से दुष्कर्म की कोशिश की. नशे में बदहवास कंपाउंडर महिला मरीज के वार्ड में घुसकर उसके साथ जबरदस्ती करने लगा. सोमवार की अहले सुबह कलंकित किये जाने वाली घटना को अंजाम दिया जा रहा था. उस वक्त वार्ड में भर्ती अन्य मरीज सो रहे थे. पीड़िता द्वारा हंगामा मचाये जाने पर आसपास की मौजूद महिलाओं ने कंपाउंडर को मौके पर धर दबोचा और उसे जमकर धोया. फिल्हाल पुलिस ने आरोपी कंपाउंडर को हिरासत में ले लिया है और मामले को जांच शूरू कर दी गई है. एसडीपीओ विद्यासागर ने बताया कि आरोपी युवक शराब के नशे में चार दिन पूर्व प्रसव पीड़ा झेल चुकी महिला के साथ दुष्कर्म का प्रयास कर रहा था. जिसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है.


Like it? Share with your friends!

0
Digital Desk

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: