0

ऐसे बहुत कम लोग होते हैं, जो एक ऊंचे पद पर आने के बाद पद के प्रति इमानदारी होते हैं। ऐसे इमानदार लोग अपने परिवार को भी अपनी इमानदारी के बीच नहीं आने देते। हम बात कर रहे हैं एक ऐसे पुलिसकर्मी बेटे की जिसने फर्ज निभाते हुए अपने ही पिता का चालान काट लिया। क्योंकि पिता की गाड़ी में काली फिल्म लगी हुई थी।
 
मध्य प्रदेश के उमरिया में एक पुलिसकर्मी बेटे ने अपने पिता का चालान काटकर ईमानदारी की मिसाल पेश की है। दरअसल, अखिल सिंह एक ईमानदारी पुलिसकर्मी है। उनके पित आरबी सिंह कटनी की बहोरीबंद तहसील में SDO हैं। वह परिवार से मिलने उमरिया आए थे। यहां गाड़ी में काली फिल्म लगी देख पुलिस वालों ने उन्हें रोक लिया। यहां SDO पिता ने जो देखा वह देखकर हैरान रह गए। उन्हें जिस पुलिस वाले ने रोका था, वह उनका ही बेटा निकला। दोनों एक दूसरे को देखकर हैरान थे।
 

 
पिता को देखकर भी बेटे ने अपनी ईमानदारी नहीं खोई, उन्होंने आदेश दिया कि किसी के साथ भी भेदभाव नहीं किया जाना .चाहिए। जब हम काली फिल्म के खिलाफ चालान काट रहे हैं, हर उस शख्स का चालान कटेगा जिसकी कार में काली फिल्म लगी हुई होगी, फिर इसमें कोई परिवार वाला ही शामिल क्यों ना हो। बेटे की ऐसी ईमानदारी देख पिता का दिल गदगद हो गया।
 
आखिर अपने बेटे को इतना ईमानदार देख  पिता ने अपनी इच्छा से गाड़ी में लगी काली फिल्म निकलवाई और जुर्माना भी दे दिया। दरअसल, सेंट्रल मोटरवाहन नियम 1989 के तहत मानक तय किए गए हैं। इस नियम के कहते हैं शीशों पर रंगीन या काली फिल्म लगवानी है तो विजिबिलिटी 50% से कम नहीं होनी चाहिए। सामने और पीछे शीशों की विजिबिलिटी 70% होनी चाहिए।


Like it? Share with your friends!

0
Digital Desk

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: