0

बिहार के मानपुर के भुुसुंडा गांव निवासी एक युवक ने युवती को पहले अपने जाल में फोन पर फंसाया. उसके बाद गया शहर के विष्णुपद मंदिर में शादी कर ली. शादी के बाद जब लड़की को लड़के की असलियत के बारे में पता चला, तो परेशानी और बढ़ गयी.

वह गया कोर्ट में शादी करने का दबाव युवक पर बनाने लगी. यही नहीं, प्रेमी और प्रेमिका जब अपने घर भुसुंडा पहुंचे, तो युवक के घरवालों ने उन दोनों को अपनाने से इनकार कर दिया. फिलहाल लड़का अपनी प्रेमिका को छोड़ फरार है. इधर, प्रेमी का भाई ने युवती के साथ मुफस्सिल थाने में पहुंच कर न्याय की गुहार लगायी है.

जानकारी के अनुसार, युवती सीतामढ़ी जिले के रूनीशैदपुर थानाक्षेत्र की रहनेवाली बतायी जाती है. उसके फोन पर पिछले दस माह से मुफस्सिल थाना क्षेत्र के भुसुंडा गांव के रहनेवाले पेशे से ऑटो चालक ने फोन पर बातें किया करता था. बीती 15 मई को उसे सीतामढ़ी से प्रेमी को भगा लाया और विष्णुपद मंदिर में शादी रचा ली. पता चला है कि शादी के बाद युवती को प्रेमी अपने किसी पहचान वाले के घर में ले जाकर रखा था. वहां लड़की को सबकुछ अटपटा-सा लगा, तो उसने ससुराल जाने की बात की, तो युवक टालमटोल करने लगा.

बताया जाता है कि किसी तरह युवक अपनी प्रेमिका को साथ लेकर जब भुसुंडा पहुंचा, तो घरवालों ने लड़का और लड़की के साथ मारपीट करते हुए उन्हें अपनाने से इनकार कर दिया. फिलहाल मुफस्सिल थाने की पुलिस लड़की और लड़का के भाई को अपने कब्जे में रखे हुए है. पुलिस मामले की जांच करने में लगे हैं. थानाध्यक्ष कमलेश कुमार शर्मा ने बताया कि लड़की के पिता से फोन पर संपर्क किया, तो उसने अपनी बच्ची को अपनाने से इनकार कर दिया. लेकिन, रून्नीसैदपुर थाने में लड़की के पिता ने लापता होने की मामला दर्ज करायी है. सीतामढ़ी पुलिस से संपर्क किया जा रहा है. इस पूरे मामले को पुलिस काफी गम्भीरता से ले रही है.
इनपुट: PKM


Like it? Share with your friends!

0
Digital Desk

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: