0

पूर्णिया : पड़ोसी की पत्नी को पहले प्रेम जाल में फंसाया, फिर उसे लेकर भागा और बाद में उसकी हत्या कर दी. लाश को ठिकाने लगाने के बाद वह वहां से हमेशा के लिए उस शहर को छोड़ दिया. इस मामले का खुलासा तब हुआ जब महिला का शव बरामद हुआ. यह घटना पंजाब के कपूरथला जिला अंतर्गत सुभानपुर थाना क्षेत्र के नसीरपुर गांव का है. आरोपित व्यक्ति जिले के भवानीपुर पूरब पंचायत अंतर्गत शिशवा गांव निवासी सचिंदर ठाकुर का पुत्र कारेलाल ठाकुर है. पुलिस पिछले एक साल से उसके पीछे है, लेकिन वह हर बार चकमा देकर फरार हो जाता है. गुरुवार को भी पंजाब से पुलिस का एक दल भवानीपुर पहुंचा है.

सुभानपुर थाना के सहायक थानाध्यक्ष सूरत सिंह ने बताया कि नसीरपुर गांव में खगड़िया जिले के चंद्रदेव अपनी पत्नी बागो देवी के साथ रह रहा था. चंद्रदेव को एक ही जिला जवार होने की दुहाई देकर कारो ठाकुर ने दोस्ती कर ली. दोस्ती में वह अक्सर उसके घर आने-जाने लगा. इसी क्रम में वह चंद्रदेव की पत्नी को झांसा देकर पहले उस पर डोरा डालना शुरू कर दिया, फिर मौका देखकर वह उसे लेकर भाग गया. जब चंद्रदेव को इसकी भनक मिली तो उसने कारे ठाकुर के खिलाफ सुभानपुर थाना में अपनी पत्नी के अपहरण का मामला दर्ज कराया.

खोजबीन के दौरान पुलिस ने मिट्टी में दबे बागो देवी का शव बरामद कर लिया. पंजाब पुलिस टीम का नेतृत्व कर रहे सहायक थानाध्यक्ष सूरत सिंह ने बताया कि कारेलाल ठाकुर ने बागो देवी की हत्या कर साक्ष्य को छुपाने कि नीयत से उसके शव को मिट्टी के नीचे दबा दिया था. इस संबंध में कारे ठाकुर के खिलाफ सुभानपुर थाना में कांड संख्या 119/17 दर्ज किया गया है. इसी सिलसिले में पंजाब पुलिस यहां दोबारा आयी थी.

गुरुवार की देर रात तक पंजाब और भवानीपुर पुलिस कारेलाल ठाकुर की गिरफ्तारी के लिए उसके घर सिंघियान सहित कई जगहों पर छापेमारी की. उसके परिजनों से भी आवश्यक पूछताछ की, लेकिन उसका पता नहीं चला. कारेलाल ठाकुर के परिजनों ने पुलिस को बताया कि वह अपने घर नहीं आता है. छापेमारी टीम में पंजाब पुलिस के सर्वजीत सिंह, सुखपाल सिंह सहित भवानीपुर थानाध्यक्ष संतोष कुमार मंडल सदलबल के साथ शामिल थे.
इनपुट:PKM


Like it? Share with your friends!

0
Digital Desk

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: