Wednesday, October 20

पत्नी को छोड़ विदेश भागने वाले लोगों के पास्पोर्ट रद्द होंगे, हेल्पलाइन नम्बर हुआ जारी

शादी करने के कुछ दिन बाद ही पत्नी को छोड़कर विदेश भागने वाले दूल्हों के पासपाेर्ट रद्द किए जाएंगे। हजारों शिकायतें मिलने के बाद चंडीगढ़ पासपोर्ट ऑफिस ने यह सख्त कदम उठाया है। इस पर काम भी शुरू हो चुका है। पिछले तीन दिनों में 7 पासपोर्ट रद्द किए जा चुके हैं। इस काम को पीड़ित महिलाएं ही अंजाम दे रही हैं। इन महिलाओं की एक टीम पासपोर्ट रद्द करने में कर्मचारियों की मदद कर रही हैं। चंडीगढ़ के रीजनल पासपोर्ट ऑफिसर सिबास कविराज ने कहा कि काफी समय से पासपोर्ट आॅफिस को शिकायतें मिल रही थी कि एनआरआई लड़के विदेश से यहां आकर शादी करते हैं। कुछ समय पत्नी के साथ बिताते हैं और फिर उसे छोड़कर विदेश चले जाते हैं। एेसे कई केस हैं जिनमें लड़कियों बरसों से अपने पति का इंतजार कर रही हैं लेकिन वे वापस नहीं लौटे।
 

तीन दिन में 7 पासपोर्ट रद्द किए गए

चंडीगढ़ पासपोर्ट कार्यालय ने पासपोर्ट रद्द करने की योजना पर काम शुरू कर दिया है। पिछले दिन दिनों में 7 पासपोर्ट रद्द किए जा चुके हैं। विदेश भागने वाले दूल्हों के पासपोर्ट इसलिए रद्द किए जा रहे हैं ताकि उन्हें वापस लौटने पर मजबूर किया जा सके। चंडीगढ़ के दायरे में आनेवाले एरिया में ऐसी लड़कियों की काफी संख्या ऐसी है जिन्हें छोड़कर लड़के विदेश चले गए।
 
हैल्पलाइन नंबर जारी
जिनके पति उन्हें छोड़कर विदेश भाग गए हैं वे फोन नंबर 01722971918 पर कॉल कर अपने केस के बारे में जानकारी दे सकती हैं। हैल्पलाइन पासपोर्ट कार्यालय की वर्किंग के दौरान ही काम करेगी।
 
15 हजार महिलाओं ने की शिकायत, ज्यादा पंजाब से
इधर, रीजनल पासपोर्ट अधिकारी सिबास कविराज का कहना है कि ऐसी महिलाओं को अपने पति के खिलाफ दर्ज करवाई एफआईआर, लुकआउट नोटिस, वारंट या कोर्ट में चल रहे केस की कॉपी देनी होगी। इन दस्तावेजों के आधार पर ही पासपोर्ट रद्द किए जाएंगे। कविराज ने बताया कि ऐसी 15 हजार महिलाओं की शिकायतें मिली हैं जिनके पति उन्हें छोड़कर विदेश भाग चुके हैं। इनमें पंजाब के सबसे ज्यादा लोग शामिल हैं। कुछ शिकायतें हरियाणा की भी हैं।
 
अब पासपोर्ट के लिए नहीं होगी पुलिस वेरिफिकेशन
पासपोर्ट बनाने के लिए होने वाली पुलिस वेरिफिकेशन की प्रक्रिया को पासपोर्ट ऑफिस ने खत्म कर दिया है। अब सिर्फ संबंिधत थाने में आवेदक का क्रिमिनल रिकॉर्ड चेक किया जाएगा। पहले पुलिस अावेदक के घर जाकर वेरिफिकेशन करती थी और दो गवाहों के भी साइन लेती थी। वहीं आवेदक बताए हुए एड्स पर रे रहता है या नहीं, इसे पोस्टमैन कन्फर्म कर पासपोर्ट ऑफिस को बताएगा। अगर आवेदक बताए एड्स पर नहीं रहता होगा रे तो पासपोर्ट डिलीवर नहीं होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: