पटना का ये डायरेक्टर कमरे में बुलाकर छात्राओं का करता था फिजिकल टेस्ट, पुलिस ने धर दबोचा


छात्राओं के यौन शोषण के आरोपी जक्कनपुर थाना क्षेत्र के इंदिरा नगर रोड नंबर तीन स्थित सेंट्रल स्कूल (निजी स्कूल) के डायरेक्टर सह प्रिंसिपल की गुरुवार को अभिभावकों एवं लोगों ने जमकर धुनाई की और पुलिस को सौंप दिया। स्कूल की तीन छात्राओं की शिकायत पर पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है। 

स्कूल इंदिरा नगर में पिछले 10 सालों से संचालित है और स्कूल के डायरेक्टर शशिभूषण शर्मा (45) ने एक 8वीं की छात्रा को अपने केबिन में बुलाया। पहले उसका हाथ पकड़ा और फिर छेड़खानी करने लगा। इसके बाद छात्रा वहां से बाहर निकली और दूसरे का मोबाइल फोन मांग कर अपने परिजनों को फोन कर दिया।

 

इसके बाद उसके घरवाले अन्य लोगों के साथ वहां पहुंच गये. भीड़ को देख कर स्कूल के गार्ड ने गेट बंद कर दिया। इसको लेकर वहां हंगामा होने लगा। धीरे-धीरे करीब 200 लोग वहां पर जमा हो गये। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गयी।

 

मौके पर पहुंची पुलिस डायरेक्टर को लेकर थाने आयी और छात्रा और उसके परिजनों को भी थाने बुलाया. पुलिस ने छात्रा के बयान पर डायरेक्टर के खिलाफ आइपीसी के तहत छेड़खानी का केस दर्ज किया और पॉक्सो एक्ट भी लगाया है, उसे जेल भेज दिया गया है।

 

छात्राओं से करता था जबरदस्ती

मूल रूप से नवादा जिले के घिसुआं निवासी शशि भूषण शर्मा ने 2000 में इंदिरा नगर रोड नंबर तीन में किराए के मकान में सेंट्रल स्कूल नाम से विद्यालय खोल लिया। स्कूल नर्सरी से आठवीं तक है, सात सौ छात्र-छात्राएं पढ़ते हैं। 27 टीचर हैं और उसी मकान में शशिभूषण परिवार के साथ रहता है।

 

आरोप है कि आज सुबह प्रार्थना के बाद शशिभूषण रामकृष्णा नगर की आठवीं की छात्रा को अपने चैंबर में बुलाकर ले गए। उसके साथ जबरदस्ती का प्रयास करने लगे। किसी तरह छात्रा खुद को छुड़ाकर बाहर आई और एक टीचर का मोबाइल लेकर पिता को फोन कर प्रिंसिपल की हरकत के बारे में जानकारी दी।

 

सूचना पाकर छात्रा के घर वाले स्थानीय लोगों के साथ स्कूल पहुंच गए। जब प्रिंसिपल से लोगों ने बातचीत शुरू की तो उसने हॉकी से सभी की पिटाई की धमकी दी। इस पर लोग गुस्से में आ गए और उसे दबोच लिया। इस दौरान स्कूल की अन्य छात्राएं भी जुट गईं।

 

उन्होंने बताया कि वह उनके साथ भी अश्लील हरकत करता है। इसके बाद लोग उग्र हो गए और शशिभूषण की जमकर धुनाई कर दी। खबर थाना पुलिस को मिली। थानाध्यक्ष इबरार अहमद खान टीम के साथ मौके पर पहुंच प्रिंसिपल को पकड़कर थाने ले आए। थाने पहुंची तीन छात्रों ने प्रिंसिपल पर यौन शोषण का आरोप लगाते हुए लिखित शिकायत की है। 

 

एक महीने से कर रहा था छेड़खानी 

प्रिंसिपल की करतूत का खुलासा करने वाली आठवीं की चौदह वर्षीय छात्रा सहमी हुई थी। उसने पुलिस को बताया कि एक माह से प्रिंसिपल छेड़खानी कर रहा था। दस दिन पूर्व उसने उसका हाथ पकड़ लिया। किसी तरह खुद को छुड़ाकर बाहर निकली और दो सहेलियों को पूरी कहानी सुनाई। इस दौरान दो बार वह बेहोश हो गई। तीनों छात्राओं ने पुलिस को बताया कि वह गंदी हरकत करता था। अपने कमरे में बुलाता था। 

 

कहा- थानाध्यक्ष ने

तीन छात्राओं ने प्रिंसिपल पर यौन शोषण का आरोप लगाया है। अभिभावक जब पूछताछ करने पहुंचे तो आरोपी प्रिंसिपल हॉकी से पिटाई करने की धमकी देने लगा। लोगों की भीड़ जुट गई। प्रिंसिपल को गिरफ्तार कर लिया गया है। 

-इबरार अहमद खान, जक्कनपुर थानाध्यक्ष 

[zombify_post]

Comments 0

Your email address will not be published. Required fields are marked *

पटना का ये डायरेक्टर कमरे में बुलाकर छात्राओं का करता था फिजिकल टेस्ट, पुलिस ने धर दबोचा

log in

Become a part of our community!

reset password

Back to
log in