0
0 0
Read Time:4 Minute, 32 Second

बिहार में रामनवमी के दौरान कई जिलों में हुई हिंसा को लेकर पुलिस द्वारा की गई कार्रवाई से बीजेपी नेता नाखुश हैं. इस कार्रवाई से असंतोष जताते हुए भाजपा नेताओं के डीजीपी से मुलाकात की है. जिसके बाद सूबे के नीतीश सरकार भी निशाने पर आ गई है. क्योंकि एक तरफ सीएम नीतीश कुमार ने कार्रवाई करने की आदेश दिया है, तो वहीं बीजेपी इस करवाई से नाराज है. इस पर जमकर बयानबाजी शूरू हो गई है.

कांग्रेसी नेता और AICC सदस्य प्रेमचंद मिश्रा ने ट्वीटर के जरिये अपने बयान को सामने रखा है, उन्होंने कहा ट्विट के जरिये यह कहा है, “बिहार की नीतीश सरकार अपना कार्यकाल पूरा नहीं कर पाएगी और इसे गिराएगी बीजेपी. सुशील मोदी के नजदीकी नेताओं का अपनी ही सरकार पर बहुसंख्यकों को फसाने का आरोप और और राज्यपाल से लगाई गई गुहार के राजनैतिक अर्थ आसानी से समझे का सकते हैं!!”

इसके साथ ही बीजेपी के डीजीपी से मुलाकात मामला में राजद के उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने नीतीश पर तंज कसा है. उन्होंने कहा कि नीतीश अपने किए की सजा भुगत रहे हैं. नीतीश बीजेपी के चंगुल में फंसे हैं. जान बूझकर कर नौटंकी हो रहा है. जनता अब इनके नौटँकी को समझ गई है अब किसी बहकावे में नहीं आएगी.

राजद ने कहा है कि इस गठबंधन की समय सीमा अब हो खत्म गयी. बीजेपी जदयू का ये कैसा गठबंधन है. अपनी सरकार रहते हुए डीजीपी से गुहार लगानी पड़ रही, नीतीश कुमार ने जैसा काम किया वैसा भोगना पड़ेगा, नीतीश और सुशील मोदी में दरार पड़ गयी है.

पूर्व सीएम जीतन राम मांझी ने इस मामले में बयान देते हुए यह कहा, ‘बिहार में साम्प्रदायिक तनाव और हिंसा के पीछे भाजपा का हाथ है, अब DGP को ज्ञापन सौंप कर भाजपा नौटंकी कर रही है. नीतीश कुमार भाजपा से डरे हुए है, अपनी कुर्सी बचा रहे हैं.”

वहीं इस मुलाकात के बाद जदयू प्रवक्ता संजय सिंह ने कहा है कि भाजपा नेताओं ने डीजीपी से मिलकर अपनी मांग रखी है. उन्होंने अपने तरफ से अपने तथ्य रखे होंगे, अब जांच चल रहा है, जो भी दोषी होगा कड़ी कार्रवाई होगी, कोई समझौता नहीं किया जायेगा. उन्होंने कहा कि साम्प्रदायिकता से नहीं होगा कोई समझौता,नितीश कुमार का चेहरा समझौता वाला नहीं,चेहरे पर कोई दाग नहीं लगने देंगे. वहीं जदयू नेता जय कुमार सिंह ने कहा कि बीजेपी शिष्ट मंडल ने डीजीपी से मुलाक़ात कर किसी पुलिस पदाधिकारी के गलती के बारे में सूचना दी होगी, वरिष्ठ पुलिस अधिकारी इस मामले की जांच कर सच्चाई सामने लायेंगे. नीतीश कुमार कभी तुष्टीकरण की राजनीति नहीं करते.

मंत्री जय कुमार सिंह ने यह भी कहा कि नीतीश सरकार किसी भी निर्दोष को न तो फंसाती है और ना ही किसी दोषी को बख्शती है. वहीं इस मुलाकात पर राजद और कांग्रेस नेताओं के बयान भी आने लगे हैं.

आरजेडी के वरिष्ठ नेता रघुवंश प्रसाद सिंह ने कहा, “बीजेपी वाले तलवार लेकर निकले रोड पर क्या ये किसी कानून में है…बीजेपी वाले राम नाम के बदले तलवार भांजते हैं…बीजेपी ने अब मुख्यमंत्री पर शिकंजा कस दिया है…नीतीश कुमार गठबंधन मेंअनकंफर्टेबल हैं.”

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Like it? Share with your friends!

0
Digital Desk

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *