0

दुबई/भारत: कुलविन्द्र गत नामक एक नौजवान जों दुबई पैसे कमाने गया था, वो देर रात करीब पौने 2 साल बाद अपने घर लौटा। घर लौटने के बाद पता नहीं उसके सर भी क्या सवार हो गया कि उसने अपने पुरे परिवार के सदस्यों को दर्दनाक मौत दे दी। उसे मानवता और रिश्तों को शर्मसार करते हुए परिवार के सभी लोगों पर तेल छिड़क कर उन्हें जिन्दा जला दिया। कुलविन्द्र कपूरथला के संघियां कस्बे का रहने वाला था। उसकी इस करतूत से पूरा कस्बा हैरान है, किसी को कुछ समझ नहीं आ रहा कि आखिर कुलविन्द्र ने यह कदम क्यों उठा लिया।

इस घटना में परिवार के मुखी, उसकी पत्नी और 2 मासूम बच्चों (पुत्र और बेटी) सहित 4 की मौत हो गई। जानकारी के अनुसार काला संघियां के स्व. भोला सिंह और महेन्द्र कौर का पुत्र कुलविंद्र सिंह उर्फ बंगा (35) लगभग पौने 2 सालों से दुबई में रोजगार के लिए गया था। मौके पर पहुंचे जगजीत सिंह सरोआ एस.पी. (डी) कपूरथला को महेन्द्र कौर ने बताया कि उसका पुत्र विदेश गया था जबकि उसकी पत्नी और 2 बच्चे यहां रहते थे परंतु मेरी बहू और लड़का मेरी देखभाल नहीं करते थे। इसलिए मैंने अपनी बड़ी लड़की जसविन्द्र कौर पत्नी सर्बजीत सिंह निवासी गांव प्रतापपुरा जालंधर को अपनी देखभाल के लिए रखा हुआ था।

उसके अनुसार देर रात कब उसका लड़का घर आया, उन्हें कुछ पता नहीं। वह न तो उससे और न ही अपनी बहन को मिला। माता ने बताया कि उनकेलड़के ने अपने कमरे में सारे परिवार को पैट्रोल छिड़क कर आग के हवाले कर दिया, जिस कारण कुलविन्द्र सिंह, उसके पुत्र रोबिन (5) की मौके पर ही मौत हो गई जबकि कुलविन्द्र की लड़की रवीना (7) अस्पताल में जख्मों की ताव न सहते हुए दम तोड़ गई और उसकी पत्नी मनदीप कौर की भी मौत हो गई।

पुलिस ने मृतकों के बयानों के आधार पर कथित 4 व्यक्तियों गुरप्रीत सिंह उर्फ सन्नी पुत्र गुरनाम, बलकार सिंह उर्फ मंत्री, नम्बरदार तीर्थ सिंह व सत्या (काला संघियां) के खिलाफ धारा 306 आई.पी.सी. के तहत मामला दर्ज किए जाने की खबर है। जबकि पुलिस ने गुरप्रीत सिंह उर्फ सन्नी व बलकार सिंह उर्फ मंत्री को हिरासत में ले लिया है, उनसे पुलिस की पूछताछ चल रही है। इस मामले से जुड़े अन्य लोगों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की छापेमारी जारी है।


Like it? Share with your friends!

0
user

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: