दुबई से भारत के लिए बड़ी ब्रेकिंग: दुबई पुलिस कुत्ते की तरह ढूँढेगी इस भारतीय आमिरजादे को


0

दुबई से भारत के लिए बड़ी ब्रेकिंग: दुबई पुलिस कुत्ते की तरह ढूँढेगी इस भारतीय आमिरजादे को

नीरव मोदी की घोटालेबाजी की सिर्फ भारत तक ही सीमित नहीं थी. मुंबई की ब्रैडी हाउस ब्रांच के अलावा कंपनी की फर्म ने हॉन्ग-कॉन्ग और दुबई की ब्रांचों से भी लोन फैसिलिटी का फायदा उठाया था. पंजाब नेशनल बैंक ने जांच एजेंसियों को जो इंटरनल रिपोर्ट सौंपी है, उसमें इस बात का खुलासा हुआ है. रिपोर्ट के मुताबिक, नीरव मोदी की कंपनी फायरस्टार डायमंड लिमिटेड हॉन्ग-कॉन्ग और फायरस्टार डायमंड FZE दुबई ने पीएनबी की हॉन्ग-कॉन्ग और दुबई ब्रांचों से भी कर्ज उठाया था.

 

 

फ्रॉड में दर्ज नहीं दोनों अकाउंट

जांच शुरू होने और 14000 करोड़ के घोटाले के सामने आने पर दोनों कंपनियों ने स्वीकृत क्रेडिट फैसिलिटी को वापस ले लिया था. रिपोर्ट में यह भी कहा गया, ‘जांच के नतीजे सामने आने के बाद नीरव मोदी ग्रुप के अन्य खातों के साथ कोई फ्रॉड ट्रांजैक्शन का मामला सामने नहीं आया. इसलिए इन दोनों अकाउंट्स को फ्रॉड के तौर पर दर्ज नहीं किया गया.’

 

अमेरिकी में दिवालियपन की अर्जी दी

भारत में घोटाले की परतें खुलने के बाद नीरव मोदी ग्रुप की एक और कंपनी अमेरिका की फायरस्टार डायमंड इंक ने फरवरी के आखिरी हफ्ते में न्यूयॉर्क साउदर्न बैंकरप्सी कोर्ट में चैप्टर 11 के अंतर्गत दिवालिया होने की अर्जी दी थी. पंजाब नेशनल बैंक भी इस बैंकरप्सी की प्रोसिडिंग्स से जुड़ा. क्योंकि, फ्रॉड का सबसे ज्यादा हिस्सा अमेरिका बेस्ड कंपनी के जरिए भेजे जाने की आशंका थी.

 

162 पेज की रिपोर्ट में कई खुलासे

पंजाब नेशनल बैंक की आंतरिक जांच की 162 पेज की रिपोर्ट में कई खुलासे हुए हैं. रिपोर्ट में आरोप लगाया गया कि ब्रैडी हाउस ब्रांच के कर्मचारियों ने हीरा कारोबारी नीरव मोदी और उनके मामा मेहुल चौकसी को अरबों डॉलर का फॉरेन क्रेडिट दिलाने के लिए फर्जी लेटर ऑफ अंडरटेकिंग्स जारी किए थे. जिसकी वजह से देश का सबसे बड़ा बैंक फ्रॉड हुआ. रिपोर्ट में जांच एजेंसियों को प्रमाण के तौर पर इंटरनल ई-मेल भी उपलब्ध कराए गए.

 

पीएनबी को 13,416 करोड़ रुपए का घाटा

बैंक ने जनवरी-मार्च, 2018 तिमाही के दौरान 13,416.91 करोड़ रुपए का घाटा दर्ज किया था, जबकि एक साल पहले यानी 2016-17 की आखिरी तिमाही के दौरान पीएनबी को 261.90 करोड़ रुपए का प्रॉफिट हुआ था. नीरव मोदी के फ्रॉड से जुड़े घाटे को बैंक ने प्रोविजनिंग में 7178 करोड़ रुपए दिखाया है. यह 14356 करोड़ की कुल 50 फीसदी राशि है. बकाया राशि को चालू वित्त वर्ष की बाकी तीन तिमाही में वसूलने का दावा है.



Exclusively Reported First at: दुबई से भारत के लिए बड़ी ब्रेकिंग: दुबई पुलिस कुत्ते की तरह ढूँढेगी इस भारतीय आमिरजादे को


Like it? Share with your friends!

0
user

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *