0

दुबई के एक होटल में चोरी की नियत से चेक इन करने के लिए प्रवासी महिला ने दूसरी महिला का आईडी इस्तमाल किया। उसने दूसरे व्यक्ति की पत्नी के आईडी के जरिये उसके कमरे से Dh8,000 की चोरी कर ली। इस मामले में महिला को दुबई के एक अदालत ने तीन महीने की सजा सुनाई है। साथ ही कोर्ट ऑफ फर्स्ट इंस्टेंस ने गृहिणी को निर्वासित किये जाने का आदेश भी दिया है।
 
32 वर्षीय नाइजीरियाई महिला पर दूसरे व्यक्ति की पहचान दस्तावेज का उपयोग कर चोरी करने का आरोप लगा था। 24 जून को हुई इस घटना के सिलसिले में उसे गि’र’फ्ता’र किया गया और हि’रा’स’त में रखा गया। महिला के खिलाफ दुबई के बर पुलिस स्टेशन में एक मामला दर्ज किया गया था। होटल के रिसेप्शनिस्ट जोकि मिस्र की रहने वाली है उसने जांच के दौरान बताया जब वो ड्यूटी पर थी उसी दौरान प्रतिवादी आई थी। इस दौरान दोपहर 2 बज रहे थे। प्रतिवादी ने एक विग पहन रखा था। उसने ऑनलाइन बुकिंग की बात कहकर अपना नंबर दिया। फिर उसने एक अमीराती आईडी दिखाई, जो युगांडा की महिला की थी। यह बुकिंग युगांडा की महिला के नाम से भी की गई थी।

रिसेप्शनिस्ट ने प्रतिवादी को कहा कि वह लॉबी में बैठकर प्रतीक्षा करे। शक होने पर उसने अपने मैनेजर को महिला के बारे में बताया। इसके बाद जब प्रबंधक ने उस महिला से संपर्क किया, तो वह भागने लगी। दौड़ने के क्रम में उसकी विग गिर गई। प्रबंधक ने उसका पीछा किया और सुरक्षा गार्डों की मदद से उसे पकड़ने में कामयाब रहा। रिसेप्शनिस्ट ने कहा कि यह पहली बार नहीं था कि उन्हें इस आईडी कार्ड का सामना करना पड़ा, इससे पहले उसे इस तरह का आईडी दिखाई गई थी जो दूसरे कमरे की बुकिंग के लिए थी।
 
उस कार्ड को पहले एक कमरे की बुकिंग में इस्तेमाल किया गया था, जहां बाद में एक चोरी की घटना हुई थी। लेकिन पहले जब प्रबंधक ने उसका पीछा किया था तो वह किसी तरह मामले को मैनेज करने में कामयाब रही थी।” होटल के अकाउंट मैनेजर ने रिसेप्शनिस्ट के इस बयान का समर्थन किया है। अकाउंट मैनेजर ने कहा कि “महिला, जिसने 6 जून को उस आईडी का इस्तेमाल किया था, उसी कमरे में उसके साथ रहने वाले आदमी से Dh8,000 चुरा लिया था। इसलिए, जब मैं प्रतिवादी से उसका पासपोर्ट मांगने गई, तो उसने भाग कर आईडी फेंक दी।”
A housewife, who used another woman’s Emirates ID to try to check into a hotel, has been sentenced to three months in jail by a Dubai court.
The 32-year-old Nigerian woman was charged with using another person’s identification document. She has been arrested and placed in detention in connection with the incident that happened on June 24. A case was registered at the Bur Dubai police station.
The Court of First Instance also ordered that the housewife be deported.
The hotel receptionist, an Egyptian, recounted during the investigation that he was on duty at past 2pm when the defendant came. “She was wearing a wig. She said she had made a booking online, and gave its number. She then showed an Emirates ID that belonged to a Ugandan woman. The booking was also done in the Ugandan woman’s name,” he said.
He told the defendant to sit down and wait in the lobby, as he alerted his manager about the situation.
“When the manager approached her, she ran away and her wig fell off. He chased her and the security guards helped catch and restrain her,” the witness told the investigator.
The receptionist added that it wasn’t the first time that they encountered the same ID card, Earlier in the same month, it also caused a problem in another room booking.
“That card had been previously used in booking a room where a theft incident took place later. She had managed to somehow dispose of the ID after the manager followed her.”
The account manager at the hotel supported the receptionist’s statement.
“The woman, who had used that ID on June 6, stole Dh8,000 from the man who was with her in the same room. So, when I went to the defendant asking for her passport, she ran and threw the ID away.”
The housewife has the right to appeal the ruling within 15 days from the date it was issued.


Like it? Share with your friends!

0
Ravi Shekhar

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *