0

एक अकेली महिला हमारे देश में आज भी कहीं यात्रा करने से कतराती है, उसकी वजह है कुछ लोगों की नजर और सोच का गंदा होना है. ऐसे लोगों के वजह से महिलाओं को उचित स्थान नहीं मिल पाता है, कई बार ऐसे ही नासमझों और बेहयाओं के वजह से हमारी बहन बेटी दुखों के सैलाब में डूबने को मजबूर हो जाती है. उसे हमारे समाज, सिस्टम और दी जा रही दिलासाओं से नफरत हो जाता है. हम एक ऐसा ही वाकया आपको बताने जा रहे हैं, जो हमारी बहन बेटियों की सुरक्षा से संबंधित हैं. एक महिला जो मुंबई में काम करती थी. वो ट्रेन से कहीं जा रही थी. सफर के दौरान उसके बगल में एक बांग्लादेशी पर्यटक भी बैठा हुआ था.

जिसने अपनी मर्यादा और कानून की परवाह किये बिना उस महिला के साथ बुरी तरह से छेड़छाड़ की. इतना ही नहीं जब वह महिला सो गई तो रात के अँधेरे में उस बांग्लादेशी पर्यटक ने मोबाइल का लाइट से जलाया और उसके हाथ से अपना प्राइवेट पार्ट टच करवाने लगा. इस दौरान जैसे ही महिला की नींद खुली तो वह बहुत ही जोर से चिल्लाई. लेकिन उसकी आवाज सुनने के बाद भी कोई उसके पास नहीं आया. उस 28 वर्षीय महिला ने यह भी बताया कि खुद उस युवक के परिवार वाले ट्रेन में मौजूद थे पर वे भी कुछ नहीं बोले. इस दौरान ट्रेन में कोई सुरक्षाकर्मी भी मौजूद नहीं था. बाद में जब ट्रेन मुंबई सेंट्रल पहुंची तो पीड़ित महिला ने शिकायत दर्ज कराई, जिसके बाद बांग्लादेशी युवक को गिरफ्तार कर लिया गया. गिरफ्तार बंगलादेशी का नाम अयूब सुलेमान है. महिला के मुताबिक सुलेमान की सीट महिला के पास ही थी.

वह काफी देर से महिला के साथ बात करने की कोशिश कर रहा था. रात होते ही दूरंतो के उस थर्ड एसी कोच में जब सब सो रहे थे, तभी सुलमान ने महिला को मोबाइल की लाइट से जगाया और उन्हें प्राइवेट पार्ट दिखाने लगा. इस दौरान उसने महिला के साथ जबरदस्ती भी की, लेकिन जब वह जोर से चिल्लाने लगीं, तो वह दूसरे कोच में भाग गया, लेकिन मदद के लिए कोई आगे नहीं आया. दूरंतो एक्सप्रेस में जिस वक्त यह घटना हुई, उस वक्त वहां पर कोई सुरक्षाकर्मी नहीं था. महिला और भी घबरा गयी. कुछ देर बाद किसी यात्री ने बताया कि साथ वाले कोच में टिकट चेकर बैठे हैं. इसके बाद महिला ने टिकट चेकर को पूरी आपबीती सुनाई.

इसके बाद मौके पर आये TTE ने उस महिला के बात सुनकर उसकी सीट को बदलवा दिया. उसके बाद उसने किसी तरह से ट्रेन में रात गुजारी. बाद में उसने सुबह मुंबई सेंट्रल में उतरकर रेलवे पुलिस से मामले की शिकायत की और गुहार लगाई. जिसके बाद रेलवे पुलिस ने आरोपी को अरेस्ट कर लिया. उसने पुलिस को यह भी बताया की वह कोलकता से अपनी बहन की शादी में शामिल होकर वापस मुंबई लौट रही थी..


Like it? Share with your friends!

0
Digital Desk

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: