Wednesday, December 1

भागलपुर से पटना ट्रेन का सफ़र अब केवल 4 घंटे में, 100 से ऊपर के स्पीड पे दौड़ते रहे ट्रेने

जमालपुर-भागलपुर-साहिबगंज-किऊल सेक्शन पर ट्रेनों की रफ्तार अब और तेज़ होने वाली है। जी हां, अब 90 की जगह 110 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से इस सेक्शन पर दौड़ेगी ट्रेनें। इस बाबत सारी कवायद भी पूरी कर ली गई है। अब इस खंड पर महत्वपूर्ण एक्सप्रेस, सुपरफास्ट और मेल ट्रेनें 90-100 की जगह 110 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलेंगी। लूप लाइन में भी 15 की जगह 30 किमी औसतन रफ्तार होगा।

 

गौरतलब है कि अब ट्रेनों की स्पीड बढ़ेगी तो यात्रियों को सफर करने में समय की बचत तो होगी ही साथ-साथ ट्रेनों की रुट भी क्लियर रहेगी। बता दें कि पूर्व रेलवे के मुख्य अभियंता ने इन रेल सेक्शनों पर ट्रेनों की रफ्तार 10 किमी प्रतिघंटे बढ़ाने की सहमति दे दी है।

जानकारी के लिए बता दें कि अभी इस खंड पर एक्सप्रेस, सुपरफास्ट और मेल ट्रेनें औसतन 100 किमी रफ्तार से चल रही है, जबकि इंटरसिटी ट्रेनें अधिकतम 90 की रफ्तार से चलती है। वहीं साहिबगंज से किऊल के बीच रेलवे ट्रैक को दो वर्ष पहले ही बदल दिया गया था।

 

उम्मीद है कि ट्रेनों की रफ्तार बढ़ने से यात्रियों को सुविधा होगी और समय की भी बचत होगी। अब इसके लिए मालदा रेल मंडल ने स्पीड बढ़ाने के लिए फाइल को भी आगे भेज दिया है। जब ट्रेनों की रफ्तार बढे़गी तो कुछ गाडि़यों के समय में भी आशिंक बदलाव होने की उम्मीद है। बात करें अगर भागलपुर से पटना की तो अभी ट्रेनों को भागलपुर से पटना आने में अमूमन 5 घंटे का वक़्त लगता है। ट्रेनों की रफ्तार बढ़ने से उम्मीद है कि यह सफर औसतन साढ़े चार घंटो में तय कर लिया जाएगा। ऐसा होता है तो यात्रियों को काफी सहूलियत होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: