0

बिहार का लाइफ लाइन कहा जाने वाला महात्मा गांधी सेतु जो उत्तर और दक्षिण बिहार को जोड़ता है इन दिनों मरम्मती के दौर से गुजर रहा है. लगभग आधी दुरी तक यह पुल वन वे हो गया है. लेकिन फिर भी इस पर गाड़ियों का परिचालन इसके भार सहने के क्षमता के मुताबिक जारी है. ऐसा कहा जा रहा है कि वन वे होने के वजह से कुछ दिनों से गांधी सेतु पर जाम की समस्या और भी बढ़ गई है. ओवर टेकिंग के वजह से भी कई बार जामा की समस्या उत्त्पन हो जाती है.

खासकर बाइक वाले ओवर टेकिंग करने लग जाते हैं. जबकि कई बार तो बाइक सवार सेतुं के किनारे बनाए गए फुटपाथ पर गाड़ियों को हांकना शूरू कर देते हैं. जिसके कारण पैदल चलने वाले राहगीरों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है. जबकि इस क्रम में फुटपाथ पर गाड़ी चढ़ाते और उतारते हुए कई बार दुर्घटना भी होने की संभावना रहती है. साथ ही इस दौरान कई बार बाइक के पीछे से आने वाले गाड़ियों को कई बार एकाएक ब्रेक मारना पड़ता है.

जो पीछे से आने वाली गाड़ियों के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है. इन सब बातों को देखते हुए. आज ट्राफिक एसपी ने एक बैठक की. जिसमें उन्होंने कई बिंदुओं पर चर्चा किया. उन्होंने निर्देश जारी करते यह कहा कि अब गांधी सेतु के फुटपाथ पर बाइक चलाया नहीं जाएगा. अगर कोई ऐसा करता पकड़ा गया तो उसपर कार्रवाई की जाएगी और और जुर्माना वसूल किया जाएगा. इन पर नजर रखने के लिए सेतु पर व्हटसअप बॉय की तैनाती की गई है. पुल यह व्यवस्था शुक्रवार से ही लागू की जाएगी. पटना ट्रैफिक एसपी पीके दास ने अधिकारियों को इस संबध में निर्देश जारी किये है.


Like it? Share with your friends!

0
Digital Desk

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: