खुशखबरी : पुरे UAE में 19 लाख भारतीयों कामगारों के लिए जारी हुआ हेल्पलाइन नंबर जरूर लिखे

1 min


0

संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में काम कर रहे भारतीयों को अब परेशानी के समय में एक फोन पर मदद मिल सकेगी. देश में बड़ी संख्या में भारतीय रहते हैं। यहां रहने वाले भारतीय अब देश के किसी भी स्थान से 24 घंटे में कभी भी नि:शुल्क हेल्पलाइन फोन नंबर 80046342 पर मदद ले सकेंगे. यूएई में लगभग 17 लाख भारतीय रहते हैं. इनमें से लगभग 65 फीसदी लोग कुशल-अकुशल मजदूर हैं। अधिकारियों ने बताया कि इस देश में हेल्पलाइन इसलिए शुरू की गई है क्योंकि यहां इसकी ‘सबसे ज्यादा मांग’ थी. दुबई में भारत से आए बहुत से लोग रहते हैं, इसलिए इस परियोजना को शुरू करने के लिए इसी स्थान को चुना गया.
 
यहां शुरू हुई इस पहल की सफलता-असफलता को देखने के बाद ऐसे दूसरे देशों में भी यह कदम उठाया जाएगा, जहां बड़ी संख्या में भारतीय कामगार रहते हैं. अधिकारियों के मुताबिक पिछले साल दुबई से ऐसे 800 भारतीय मजदूरों को वापस भारत भेजा गया था, जो परेशानियों में थे। राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल ने कल रात इंडिया क्लब में हुए एक समारोह में इंडियन वर्कर्स रिसोर्सेज सेंटर की शुरूआत की. यहां जरूरतमंदों को आर्थिक, वैधानिक और मनोवैज्ञानिक मुद्दों पर परामर्श और मदद दी जाएगी.

यह केंद्र जरूरतमंद घरेलू महिला कामगारों और पति द्वारा अकेली छोड़ी गई महिलाओं को भी शरण देगा. इसके अलावा केंद्र में जरूरतमंद भारतीयों के लिए जागरुकता कार्यक्रम और परामर्श सत्र भी आयोजित होंगे। केंद्र में 14 विशेषज्ञ का दल होगा, जो जरूरतमंदों को उनकी समझ के हिसाब से अलग-अलग भाषाओं, मलयालम, तमिल, तेलुगु, पंजाबी, हिंदी और अंग्रेजी में परामर्श देगा. इस टोल फ्री नंबर के अलावा केंद्र की यहां के अलावा अबूधाबी में भी एक शाखा खोली जाएगी, जहां याचिकाकर्ता सीधे अपनी याचिकाएं दे सकेंगे अप्रवासी मामलों के मंत्रालय के सचिव दीदार सिंह ने कहा कि ऐसी हेल्पलाइन उन देशों में खोलने की योजना बनाई जा रही है, जहां बड़ी संख्या में कम दक्षता वाले मजदूर काम कर रहे हैं. दुबई में भारतीय मजदूरों ने दुनिया की सबसे उंची इमारत ‘बुर्ज खलीफा’ के निर्माण में भी अपना योगदान दिया है.


Like it? Share with your friends!

0
Digital Desk

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: