0

खाड़ी देश में एक बार फिर भारतीय युवकों को बंधक लिया गया है, सबकी हालत खराब हैं. बंधक बनाये गये युवकों की संख्या 30 हैं. इनमें बिहार, यूपी और पंजाब के युवक शामिल हैं. जिसमें एक ने बिहार के गोपालगंज जिलें के जिलाधिकारी अनिमेष कुमार पराशर से व्हाट्सएप्प मैसेज के माध्यम से अपने वतन वापसी की गुहार लगाई है.

जिस पीड़ित युवक ने यह गुहार लगायी है, उसका नाम परमेश्वर साह है. वह बरौली के सुरवल गांव के रहने वाले अंबिका साह का पुत्र है. पीड़ित परमेश्वर ने व्हाट्सएप्प से कुछ तस्वीरें भेजी है. जिसमे उसके अलावा गोपालगंज के दूसरे बंधक बने युवक बिरेन्द्र गुप्ता की तस्वीर है. इसके अलावा उसने कुछ ऐसी तस्वीरें भी भेजी है जिसमे आस पास गोला-बारूद और मोर्टार के खोखे और कारतूस भारी मात्रा में बिखरे हुए हैं.

परमेश्वर ने व्हाट्सएप्प पर मैसेज के जरिए बताया कि इराक में फंसे युवकों में गोपालगंज के दो, सीवान के 5, गोरखपुर के 8 और पंजाब के 15 लड़के शामिल हैं. उसके अनुसार जहां उन्हें रखा गया है वहां हर तरफ सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं. उस युवक ने अपने मोबाइल से आसपास में बिखरे कारतूस और मोर्टार के खोखे की तस्वीरें भी भेजी है. उन्होंने यह भी बताया कि युवकों से डेढ़ डेढ़ लाख रुपये लेकर दो एजेंटों ने उन्हें मस्कट भेजा था, जहां से उन्हें इराक में ऐसी जगह पर भेज दिया गया है जो पूरी तरह से अंजान है. उनके अनुसार ये जगह आईएसआईएस का ठिकाना भी हो सकता है.


Like it? Share with your friends!

0
user

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *