Tuesday, October 19

क़तर ने उठाया बड़ा क़दम, जर्मनी तक ने शुरू किया क़तर को समर्थन देना

जर्मन चांसलर एंजेला मार्केल और कतरी अमीर शेख तामीम बिन हमद अल तानी ने अंकारा और वाशिंगटन के बीच बढ़ते तनाव के बीच तुर्की राष्ट्रपति रसेप तय्यिप एर्दोगान के लिए समर्थन का वादा किया है.
 
तुर्की की एनाडोलू एजेंसी ने राष्ट्रपति के सूत्रों का हवाला देते हुए तुर्की के राष्ट्रपति एर्दोगान के साथ बुधवार को फोन कॉल पर जर्मन चांसलर ने उच्चतम स्तर पर पारस्परिक यात्राओं के माध्यम से तुर्की के साथ अपने सहयोग को मजबूत करने के लिए देश की प्रतिबद्धता व्यक्त की.
 
दोनों पक्षों ने सितंबर के आखिर में बर्लिन की एर्दोगान  की आगामी यात्रा पर चर्चा की और तुर्की के ट्रेजरी और वित्त मंत्री बेरेट अल्बाराक और जर्मनी के अर्थव्यवस्था मंत्री पीटर अल्टामियर के बीच एक बैठक आने के दिनों में आयोजित होने के कारण चर्चा की.

प्रेस टीवी के मुताबिक, मेर्केल ने भी मजबूत तुर्की अर्थव्यवस्था के लिए अपने देश की चिंता को रेखांकित किया, उन्होंने सोमवार की टिप्पणियों को दोहराया कि तुर्की की आर्थिक समृद्धि “जर्मनी के हितों की सेवा करती है.”
आपको बता दमन अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के तुर्की के खिलाफ दंडनीय उपायों ने तुर्की की मुद्रा लीरा में गिरवाट दर्ज की गयी है जिसका असर भारतीय मुद्रा पर भी पड़ा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: