क़तर एयरवेज ने अभी अभी मांगी माफ़ी, क़तर संकट के बाद पहली ऐसी नौबत

1 min


0

आखिर कतर एयरवेज को अपनी करनी पर शर्मिंदगी महसूस हो गयी। तभी तो कतर एयरवेज के बोर्ड चेयरमैन अकबर अल बकर ने महिला विरोधी टिप्पणी पर माफी मांग ली। साथ ही आगे ऐसा कुछ भी नहीं कहे जाने की बात भी कही। हालांकि एयरवेज के बोर्ड चेयरमैन ने यह जरुर कहा कि उनके बयान को गलत संदर्भ में लिया गया। जिसके कारण ही विवाद खड़ा हुआ और बात आगे बढ़ गई।

कतर एयरवेज के बोर्ड चेयरमैन अकबर अल बकर ने सिडनी में अंतर्राष्ट्रीय वायु परिवहन संघ की वार्षिक में कहा था कि एक महिला उनकी विमानन कंपनी का संचालन नहीं कर सकती। अल बकर के इस बयान की ऑडियो रिकॉर्डिग ट्विटर पर वायरल हो गई हैं, जिसमें उन्हें कहते हुए सुना जा सकता है। वह कह रहे हैं, यकीनन इसका नेतृत्व पुरुष को ही करना चाहिए क्योंकि यह बहुत ही चैलेंजिंग पद है। हालांकि, अल बकर ने अपने बयान पर माफी मांग ली है लेकिन उनका कहना है कि मीडिया ने उनके बयान को गलत संदर्भ में लिया है।

अल बकर ने यह भी कहा कि उन्होंने पूर्व में जो भी बयान दिया है वो किसी भी महिला के आत्म सम्मान को ठेंस पहुँचाने के लिए नहीं था। न ही वो किसी महिला को हतोत्साहित करना चाहते थे। उन्होंने अपने बयान को एक मजाक भी करार दिया है। उनके मुताबिक उनके स्टेटमेंट पर लोगों को हंसी भी आई थी, जिस वजह उन्हें यह लग रहा था कि यह बात अब यहीं तक रहेगी। इसके अलावा उन्होंने कतर एयरवेज में 44 फीसदी महिला कामगारों की होने के बात भी स्वीकारी है।


Like it? Share with your friends!

0
Digital Desk

0 Comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *